DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिजोरम में बंद के दौरान जनजीवन ठप

गुवाहाटी उच्च न्यायालय के अंतरिम आदेश के विरोध में यंग मिजो एसोसिएशन (वाईएमए) द्वारा आयोजित विरोध दिवस के कारण आज मिजोरम में जनजीवन ठप रहा। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार गत सोमवार को एक सर्वदलीय बैठक में न्यायालय के फैसले का विरोध करने का निर्णय लिया गया बैठक में स्वयंसेवी संगठन और चर्च भी शामिल थे। न्यायालय ने राय सरकार को इस आधार पर किसी भारतीय नागरिक को गिरफ्तार करने या राय से बाहर नहीं भेजने का निर्देश दिया था कि उसके पास सीमा प्रवेश परमिट नहीं है। वाईएमए के एक नेता ने कहा कि पूर्ण रुप से सफल इस बंद से यह साबित हो गया है कि तमाम राजनैतिक मतभेदों के बावजूद संवैधानिक अधिकारों को चुनौती देने वाले न्यायालय के निर्णय के खिलाफ मिजोरम के लोग एकजुट है। बंद का असर केवल जिला मुख्यालयों पर ही नहीं बल्कि गांवों में भी रहा। इस दौरान वाईएएम के भवनों पर काले झंडे भी फहराए गए। जिला मुख्यालयों से मिली सूचना के अनुसार बंद शांतिपूर्ण रहा आेैर कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की जानकारी नहीं मिली है। इस बीच राय सरकार ने लोगों से कहा कि घबराने की जरुरत नहीं है। इस आदेश के विरोध में हर संभव लड़ाई लड़ी जायेगी और जरुरत पड़ी तो उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मिजोरम में बंद के दौरान जनजीवन ठप