DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिपाही की मार से दलित महिला के कान का पर्द फटा

बच्चों की पिटाई का प्रकरण शांत नहीं हुआ कि एक सिपाही ने दलित महिला को धुन डाला। महिला के कान का पर्दा फट गया। सुबेहा थाने के इस सिपाही ने पति व पुत्री को भी लाठियों से पीटा। अब यह अबला रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए सीओ और एएसपी के यहाँ चक्कर काट रही है लेकिन महिला की मेडिकलोाँच कराने की बााए अफसर मामले की पड़ताल करने की बात कहकर टरका रहे हैं।ड्ढr सुबेहा थाना क्षेत्र के ग्राम देवपुरा मजरे इस्लामपुर निवासी मायावती व उसके पति गंगाराम रावत ने एएसपी रामपाल को प्रार्थना पत्र देकर सुबेहा थाने के सिपाही लालमन यादव की कारस्तानी को बताया। एएसपी ने मामले की जाँच के आदेश थानाध्यक्ष को दिए और सीओ हैदरगढ़ को भी निर्देशित किया है कि वे पूरे मामले को देखें। मायावती ने बताया उसका विवाद परिवार के ही महँगू से पेड़ों के स्वामित्व को लेकर चल रहा है। इसी कारण पुलिस ने शांतिभंग की आशंका में मामला दर्ज कर 7 जून को चालान भी किया था।ड्ढr 21 जून की रात करीब आठ बजे सिपाही लालमन यादव घर पहुँचा और बेटी शांति से गंगाराम के बारे में पूछा। उसके इनकार करने पर दो-तीन थप्पड़ मासूम को जड़ दिए। पुत्री को पिटता देख मायावती ने विरोध किया तो उसकी कनपटी पर डंडा जड़ दिया। जिससे कान से खून बह निकला। गंगा भी आ गया तो उसकी भी पिटाई की। प्रार्थनापत्र में मायावती ने अपना व पति का मेडिकल कराने की माँग की। हालाँकि थानाध्यक्ष सुबेहा जंगबहादुर सिंह का कहना है कि सिपाही पर आरोप बेबुनियाद है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सिपाही की मार से दलित महिला के कान का पर्द फटा