DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो-तीन दिन में टीवीएनएल से होगा उत्पादन : एमडी

राज्यपाल सैयद सिब्ते राी ने 15 अप्रैल को बिजली उत्पादन और वितरण की समीक्षा की। राजभवन में आयोजित समीक्षा बैठक में बोर्ड के अध्यक्ष एचबी लाल ने महामहिम को आश्वस्त किया कि विद्युत आपूर्ति की कोई कमी नहीं होगी। वहीं टीवीएनएल के प्रबंध निदेशक ने जानकारी दी कि टीवीएनएल की एक यूनिट से बिजली उत्पादन हो रहा है। दूसर यूनिट से भी दो-तीन दिन में उत्पादन शुरू हो जायेगा। बैठक में राज्यपाल के प्रधान सचिव सुधीर त्रिपाठी, ओएसडी अविनाश कुमार भी उपस्थित थे।ड्ढr राज्यपाल ने उत्पादन में वृद्धि के लिए विकल्पों की समीक्षा का भी निर्देश दिया। उन्होंने निजी प्रतिष्ठानों के साथ विद्युत उत्पादन संबंधी एमओयू की समीक्षा और राज्य सरकार के प्रतिष्ठानों को कोल ब्लॉक को प्रभावी करने के लिए रोड मैप तैयार करने का निर्देश दिया। उन्होंने बोर्ड के ऑपरशनल घाटे और इसके फलस्वरूप केंद्र व राज्य सरकार के विभिन्न निगमों के बकायों की समीक्षा के उपरांत टीवीएनएल तथा सीसीएल के बकाये के लिए वर्ष 2000 में बजटीय उपबंध का निर्देश ऊरा एवं वित्त विभाग को दिया। ऑपरशनल, टी व डी घाटे को कम करने,वसूली बढ़ाने का निर्देश दिया। साथ ही जेएसइबी को दैनिक वसूली का प्रतिवेदन वित्त विभाग के माध्यम से सुलभ कराने को कहा। बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सेंट्रल सेक्टर का आवंटन झारखंड राज्य के लिए 400 मेगावाट है। पीटीपीएस और टीवीएनएल से उत्पादन कम होने पर सेंट्रल सेक्टर से आवंटन से अधिक बिजली प्राप्त कर लिया जाता है। राज्यपाल को बताया गया कि डीवीसी कमांड एरिया को छोड़कर 800 मेगावाट बिजली की मांग झारखंड में है। इसके एवज में टीवीएनएल से चार सौ की जगह 10, पीटीपीएस से 150 और सेंट्रल सेक्टर से 150 मेगावाट बिजली मिल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दो-तीन दिन में टीवीएनएल से होगा उत्पादन : एमडी