DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शत्रुघ्न सिन्हा बिहार भाजपा चुनाव समिति से बाहर

शत्रुघ्न सिन्हा बिहार भाजपा चुनाव समिति से बाहर

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा द्वारा हाल के दिनों में पार्टी लाइन से अलग बयानबाजी करना अब भारी पड़ने लगा है। यही कारण है कि करीब दो दशकों के बाद यह पहला मौका है जब बिहार राज्य चुनाव समिति में उन्हें स्थान नहीं दिया गया। भाजपा नेता हालांकि इस मामले को तूल नहीं देना चाह रहे हैं।

भाजपा की बिहार इकाई के अध्यक्ष मंगल पांडेय ने शुक्रवार को 31 सदस्यीय चुनाव समिति गठित की, जिसमें 'बिहारी बाबू' नाम से चर्चित पार्टी नेता को जगह नहीं दी गई। माना जाता है कि यह समिति चुनाव के लिए उम्मीदवार चुनने में अहम भूमिका निभाती है।

भाजपा प्रदेश इकाई इस मामले को ज्यादा तूल नहीं देना चाहती।

भाजपा के प्रवक्ता विवेकानंद झा ने कहा कि सिन्हा भाजपा के कद्दावर नेता हैं। यह सही है कि उन्हें राज्य चुनाव समिति में स्थान नहीं मिला है, मगर इसका यह मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए कि पार्टी में उनकी उपयोगिता कम हो गई है। उन्होंने कहा कि हो सकता है पार्टी नेतृत्व उन्हें दूसरी जिम्मेवारी देना चाह रही हो।

'बिहारी बाबू' को चुनाव समिति में नहीं लिए जाने पर पार्टी चाहे कितनी भी सफाई देती रहे, मगर पार्टी के इस कदम ने विरोधी दलों को हमला करने का एक मौका बैठे-बिठाए दे दिया है।  

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रवक्ता रंधीर यादव ने कहा कि भाजपा हमेशा से 'यूज एंड थ्रो' की नीति अपनाती रही है, इस कारण उन्हें इस निर्णय से कोई आश्चर्य नहीं हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शत्रुघ्न सिन्हा बिहार भाजपा चुनाव समिति से बाहर