DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब पार्टियों के बीच छिड़ गई टोपियों की जंग

अब पार्टियों के बीच छिड़ गई टोपियों की जंग

आम आदमी पार्टी की सफलता का असर राजनीतिक दलों पर अलग-अलग तरीके से पड़ता दिख रहा है। ‘आप’ की सफलता के बाद कोई मुख्यमंत्री अपने सुरक्षा खर्च में कटौती करता हुआ दिख रहा है तो कोई अपने आपको सादगी पसंद दिखाने में लगा हुआ है। यहां तक कि आम आदमी पार्टी की टोपी की भी नकल शुरू हो गई है। जी हां, शुक्रवार को भाजपा द्वारा राजघाट पर दिए गए धरने में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला।

अन्ना आंदोलन के दौरान ही पुराने जमाने की गांधी टोपी को एक बार फिर से राजनीतिक पहनावे के अभिन्न अंग के तौर पर अहमियत मिली। ‘मैं अन्ना हूं’ लिखी हुई टोपी पहनकर लोग उनके साथ अपना समर्थन जताते रहे हैं। जबकि, आम आदमी पार्टी के गठन के बाद से अरविंद केजरीवाल, उनके सहयोगी और पार्टी के समर्थक इसी तरह की टोपी पहनते रहे हैं। बस इस पर लिखी हुई इबारत में बदलाव किया गया। अब इसके एक तरफ ‘मैं हूं आम आदमी’ और दूसरी तरफ ‘मुझे चाहिए पूर्ण स्वराज’ का नारा लिखा रहता है। राजघाट पर पहुंचे भाजपा नेताओं ने आम आदमी पार्टी जैसी टोपी पहन रखी थी। बस टोपी का रंग अलग था। यह भगवा रंग की है और इस पर ‘मोदी फॉर पीएम’ लिखा है।

‘आप’ इफेक्ट
शुक्रवार को राजघाट पर धरना देने पहुंचे भाजपा नेता व कार्यकर्ता दिखे भगवा रंग की टोपी में
यूपी के मुख्यमंत्री कार्यकर्ताओं को पहले ही दे चुके हैं लाल रंग की टोपी पहनने का निर्देश

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब पार्टियों के बीच छिड़ गई टोपियों की जंग