DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्तिक को अंपायरों की चेतावनी, गेंद से छेड़छाड़ का आरोप

कार्तिक को अंपायरों की चेतावनी, गेंद से छेड़छाड़ का आरोप

अनुभवी स्पिनर और रेलवे के कप्तान मुरली कार्तिक फिर विवादों में फंस गए जब बंगाल के खिलाफ रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल मैच के तीसरे दिन गेंद को लेकर कुछ मसलों के लिए अंपायरों ने उन्हें चेतावनी दी। मैच रेफरी राजेंद्र जडेजा ने कहा कि उन्हें अंपायरों से रिपोर्ट मिली है जिन्होंने कार्तिक को चेतावनी देने के बाद गेंद बदल दी थी।

जडेजा ने कहा कि हां मुझे अंपायरों से रिपोर्ट मिली है जिनका मानना है कि गेंद से कुछ मसले जुड़े हैं। उन्होंने गेंदबाजी टीम के कप्तान कार्तिक को चेतावनी दी और गेंद बदल दी। उन्होंने कहा कि यदि ऐसी घटना आगे भी होती तो यह गेंद से छेड़छाड़ का मामला बनेगा। जडेजा ने कहा कि गेंद से छेड़छाड़ लेवल 2.9 का मामला है और हम नहीं कह सकते कि किसने ऐसा किया। इसके लिए कप्तान पर मैच शुल्क का 50 से 100 प्रतिशत जुर्माना लग सकता है।

जडेजा ने कहा कि खिलाड़ी को प्रतिबंधित करने या नहीं करने का फैसला बोर्ड की अनुशासन समिति करती है। बंगाल के टीम मैनेजर देबब्रत दास ने कहा कि उनकी टीम ने लंच के बाद इस घटना पर गौर किया जब पांचवें ओवर में अनुरीत सिंह की रिवर्स स्विंग पर अभिमन्यु ईश्वरन आउट हुआ।

उन्होंने कार्तिक और अनुरीत पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि चौथे ओवर से ही गेंद रिवर्स स्विंग करने लगी जो कि असंभव है। उन्होंने गेंद से छेड़छाड़ की तथा कोच अशोक मल्होत्रा और मैंने मैच रेफरी से इसकी शिकायत की है।

दास ने कहा कि अंपायर सुरेश शास्त्री ने कार्तिक को चेतावनी दी और दूसरे सत्र में ड्रिंक्स ब्रेक के बाद गेंद बदल दी। तब बंगाल का स्कोर 14 ओवर में दो विकेट पर 15 रन था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कार्तिक को अंपायरों की चेतावनी, गेंद से छेड़छाड़ का आरोप