DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संगीतकारों को फिर कोसा अभिजीत ने

संगीतकारों को फिर कोसा अभिजीत ने

गायक अभिजीत के सुरीले गायन के बारे में नये सिरे से कुछ बयान करने की जरूरत नहीं। उनके करियर में एक दौर ऐसा भी आया, जब उन्हें ‘वॉयस ऑफ शाहरुख’ कहा गया था, मगर आज फिल्मों में उनके गाने ना के बराबर सुनने को मिलते हैं। हालांकि गायन से इतर गतिविधियों को लेकर वह खासे व्यस्त हैं। यही नहीं, वह इतना आहत हैं कि अब शाहरुख के लिए प्लेबैक भी नहीं करना चाहते। लेकिन वह बात पलट देते हैं,‘देखिए मैंने शाहरुख के लिए ढेरों मेलोडियस गाने गाये है और मैं चाहता हूं कि श्रोता मुझे उन्हीं गानों के लिए याद रखें। हाल फिलहाल के छम्मक छल्लो.. और लुंगी डांस.. जैसे गाने मैं नहीं गा पाऊंगा।’

वह इस बात से भी बहुत दुखी हैं कि आज के संगीतकार भी गायक बन गये हैं ,‘असल में वह इतने खराब सुर की रचना कर रहे हैं कि खराब गायकों से गंवाने के अलावा उनके पास कोई विकल्प नहीं है। अच्छा गायक तो यह सब गाएगा नहीं। घटिया सुर रचना हो रही है। घटिया गाने लिखे जा रहे हैं। इसलिए बेसुरे गायकों से गंवाना पड़ रहा है। मैं ये गाने गाऊंगा तो ये गाने सोबर हो जाएंगे। आज गाने तो हिट हैं, पर गायक को कोई नहीं पहचानता।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:संगीतकारों को फिर कोसा अभिजीत ने