DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षाएं सिर पर, कोर्स नहीं हुआ पूरा

बिधूना। हिन्दुस्तान संवाद। बोर्ड परीक्षाएं निकट आ जाने के बावजूद अधिकांश कालेजों में पाठ्यक्रम पूरा नहीं हो सका है। कोर्स अधूरा होने से विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों की चिंता बढ़ी हुई है। माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा तीन मार्च से व बोर्ड के विद्यार्थियों की प्रयोगात्मक परीक्षाएं इसी माह शुरू होने का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है।

मगर हालत यह है कि बिधूना क्षेत्र के अधिकांश विद्यालयों में विद्यार्थियों का पाठ्यक्रम अभी तक आधा भी पूरा नहीं हो पाया है। स्थिति यह है कि वेतन के नाम पर प्रतिमाह बड़ी धनराशि लेने वाले शिक्षक विद्यालय तो जाते हैं लेकिन कक्षाओं में शिक्षण कार्य करने से मुंह मोड़े रहे। इसी कारण विद्यार्थियों ने भी विद्यालय जाना लगभग बन्द सा कर दिया। जिससे कोर्स अधूरा पड़ा हुआ है। बोर्ड परीक्षाएं सिर पर आ जाने के बावजूद पाठ्यक्रम अधूरा रहने को लेकर छात्र छात्राओं व उनके अभिभावकों में भविष्य चौपट होने की आशंका से चिन्ता बढ़ी हुई है।

अभिभावकों की शिकायत है कि वह लापरवाही वरतने वाले शिक्षकों की शिकायतें जिला प्रशासन व संबंधित प्रबंधकों से भी कर चुके हैं। लेकिन किसी ने न तो जांच कराने और न ही दोषियों के विरूद्घ कार्रवाई करने की जहमत उठाई है।

क्षेत्र के रामविलरस सक्सेना, अनूप कठेरिया, धीरेन्द्र सिंह, हरनाम सिंह वर्मा, मुरफीक, गेंदालाल, राधेश्याम आदि लोगों व परेशान विद्यार्थियों के अभिभावकों ने शासन व जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर विद्यालयों में पाठ्यक्रम अधूरा रहने के मामले में जांच कराने और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई कराने के साथ परीक्षा के पूर्व तक पाठ्यक्रम पूरा करानें की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षाएं सिर पर, कोर्स नहीं हुआ पूरा