DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांसद बनकर सिपाही कर रहा था ट्रांसफर की पैरवी, सस्पेंड

गाजियाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। मसूरी थाने में तैनात एक सिपाही ने अच्छी जगह ट्रांसफर कराने के लिए खुद सांसद बनकर पुलिस अधिकारियों को फोन कर डाले। जब एसएसपी ने सांसद से सिपाही की पैरवी के लिए बात की तो, उन्होंने इससे इंकार कर दिया। मामले का खुलासा होने पर एसएसपी ने सिपाही को सस्पेंड कर दिया और उसके खिलाफ जांच के आदेश दे दिए हैं। एसएसपी धर्मेद्र सिंह के बताया कि मसूरी में तैनात सिपाही मुनीर अहमद ने एसपी देहात, सीओ सदर और एसओ मसूरी को फोन किया।

मुनीर ने सांसद धर्मेद्र यादव बनकर कहा कि उसका ट्रांसफर किसी बेहतर स्थान पर कर दिया जाए। अधिकारियों ने इस मामले की जानकारी उन्हें दी। इस पर उन्होंने खुद सांसद धर्मेद्र यादव को फोन करके इसकी पुष्टि की, जिस पर सांसद ने उनसे ऐसे किसी सिपाही को जानने और पैरवी से ही इंकार कर दिया।

मामले की गोपनीय तरीके जांच की गई तो पता चला की सिपाही खुद ही सांसद के नाम से अधिकारियों को फोन कर रहा था। इस पर सिपाही मुनीर अहमद को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करते हुए उसके खिलाफ जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सांसद बनकर सिपाही कर रहा था ट्रांसफर की पैरवी, सस्पेंड