DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत ने भी अमेरिकी राजनयिक निकाला

भारत ने शुक्रवार को भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े के मामले में संलिप्त एक अमेरिकी राजनयिक को 48 घंटे में देश छोड़ने के लिए कहा है। भारत ने यह कड़ी कार्रवाई देवयानी के खिलाफ अमेरिका द्वारा अभियोग लगाने के बाद उन्हें देश छोड़ने का निर्देश देने पर की है।

विदेश मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के अनुसार, अमेरिकी दूतावास से कह दिया गया है कि वे देवयानी के समकक्ष अमेरिकी राजनयिक को स्वदेश जाने के लिए कह दें। यह राजनयिक, खोबरागड़े प्रकरण की पूरी प्रक्रिया से जुड़ा रहा। इतना ही नहीं वह अमेरिका की एकतरफा कार्रवाई में भी शामिल था।

इस मामले में नया मोड़ तब आया जब गुरुवार को अमेरिका ने देवयानी के खिलाफ मामला चलाने के लिए उन्हें प्राप्त राजनयिक संरक्षण में छूट देने को भारत से आग्रह किया। भारत ने 9 जनवरी को अमेरिका के इस अनुरोध को ठुकराते हुए खोबरागड़े को नई दिल्ली स्थित विदेश मंत्रालय में स्थानांतरित कर दिया।

इसके बाद अमेरिका ने देवयानी की संयुक्त राष्ट्र की मान्यता मंजूर की और फिर उन्हें देश छोड़ने के निर्देश दिए।  शुक्रवार दोपहर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि देवयानी के पास पूर्ण राजनयिक छूट सहित जी1 वीजा है और वह विमान से भारत लौट रही हैं।

उधर न्यूयॉर्क में अमेरिकी अटॉर्नी प्रीत भराड़ा ने जिला न्यायाधीश शीरा शींडलिन को पत्र लिखकर कहा कि वीजा विवाद और गलत बयान देने के मामले में देवयानी के खिलाफ आरोप बने रहेंगे। यदि वह राजनयिक छूट के बिना अमेरिका आती हैं तो उन्हें अदालती कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत ने भी अमेरिकी राजनयिक निकाला