DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं रहे एक्टिविस्ट कवि अमीरी बराका

नहीं रहे एक्टिविस्ट कवि अमीरी बराका

अश्वेतों के अधिकारों के लिए ब्लैक आर्ट मूवमेंट से चर्चित हुए कवि अमीरी बराका का निधन हो गया है। वह 79 साल के थे।

बराका के बुकिंग एजेंट सेलेस्टे बेटेमन ने बताया कि पिछले महीने से अस्पताल में भर्ती बराका का नेवार्क बेथ इजराइल मेडिकल सेंटर में निधन हो गया।

1960 और 70 के दशक में उन्होंने अपनी लेखनी के जरिए धूम मचा दी थी। कवि, पटकथा लेखक और संगीतकारों की पीढ़ी को उन्होंने प्रेरित किया। उनके बारे में इस तरह की धारणा बनने लगी थी कि अमेरिका में समूचे अफ्रीकी आंदोलन के वह नेता के तौर पर बनकर उभरेंगे।

बराका ने ब्लैक आर्ट जैसी ऐतिहासिक कृति दी। इसका प्रकाशन 1965 में हुआ जब ब्लैक आर्ट मूवमेंट की शुरुआत हुयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहीं रहे एक्टिविस्ट कवि अमीरी बराका