DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोर ग्रुप की बैठक से पहले मनमोहन से मिले राहुल

कोर ग्रुप की बैठक से पहले मनमोहन से मिले राहुल

कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने शुक्रवार को भ्रष्टाचार विरोधी विधेयकों को पारित कराने की रणनीति और साथ ही जाट आरक्षण और संसद सत्र के दौरान सदन में अपनायी जाने वाली रणनीति पर चर्चा की। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से हुई करीब आधे घंटे की मुलाकात के कुछ मिनट बाद सोनिया गांधी की अध्यक्षता में कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक हुई।

कांग्रेस के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस कोर ग्रुप की करीब एक घंटे चली इस बैठक में फरवरी के शुरू में होने वाले संसद सत्र के दौरान पार्टी की रणनीति पर विस्तार से चर्चा की गई। इस संसद सत्र के दौरान लेखानुदान मांगें और साथ ही भ्रष्टाचार की रोकथाम के उद्देश्य वाले कुछ लंबित विधेयकों को पारित कराने का सरकार का इरादा है।

पार्टी के शीर्ष नेताओं ने इन विधेयकों को आगे बढ़ाने का निर्णय किया है। इन विधेयकों में व्हिसिलब्लोअर संरक्षण विधेयक, न्यायिक जवाबदेही विधेयक, भ्रष्टाचार रोकथाम संशोधन विधेयक और सिटिजन चार्टर विधेयक आदि शामिल हैं।

प्रधानमंत्री ने पिछले सप्ताह कहा था कि संसद में लंबित इन भ्रष्टाचार विरोधी विधेयकों को अगले लोकसभा चुनावों से पहले पारित कराने का सरकार का प्रयास रहेगा ताकि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई आगे बढ़ सके।

इसके अलावा बैठक में जाट आरक्षण के मुद्दे पर भी विस्तार से चर्चा की गई। जाट नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने हाल में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। प्रतिनिधिमंडल ने कैबिनेट द्वारा पिछड़ा जाति आयोग से केन्द्र सरकार की नौकरियों में जाटों को आरक्षण देने के मुद्दे पर जल्द से जल्द निर्णय करने को कहे जाने के लिए दोनों को धन्यवाद दिया था।

गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित आठ राज्यों में जाटों को आरक्षण देने की मांग लंबे समय से चली आ रही है। यह एक ऐसा मुद्दा है जो हरियाणा और राजस्थान जैसे कुछ राज्यों में चुनाव नतीजों पर प्रभाव डाल सकता है।

दूरसंचार मंत्री कपिल सिब्बल और कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन राज्य मंत्री वी नारायणसामी को भी सुबह की बैठक के लिए बुलाया गया था। ये लोग कोर ग्रुप के सदस्य नहीं हैं। रक्षा मंत्री एके एंटनी, वित्त मंत्री पी चिदम्बरम, गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे और कांग्रेस अध्यक्ष के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल इस कोर ग्रुप के सदस्य हैं।

कांग्रेस कोर ग्रुप की आज सुबह बैठक हुई, क्योंकि प्रधानमंत्री को मुंबई जाना था जहां उन्हें अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के नये टर्मिनल का उद्घाटन करना है। कांग्रेस कोर ग्रुप की आम तौर पर शाम में बैठक होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोर ग्रुप की बैठक से पहले मनमोहन से मिले राहुल