DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंफोसिस ने अपने मुनाफे में लगाई लंबी छलांग

इंफोसिस ने अपने मुनाफे में लगाई लंबी छलांग

देश की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा कंपनी, इंफोसिस का मुनाफा 31 दिसंबर को समाप्त तीसरी तिमाही में 21.4 प्रतिशत बढ़कर 2,875 करोड़ रुपए रहा। कंपनी को पिछले साल की इसी अवधि में 2,369 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

इंफोसिस ने शुक्रवार को बंबई शेयर बाजार को बताया कि उसकी तिमाही आय 25 प्रतिशत बढ़कर 13,026 करोड़ रुपए हो गई। विश्लेषकों को मुनाफे में 13-16 प्रतिशत और आय में 23-26 प्रतिशत बढ़ोतरी की उम्मीद थी।

इंफोसिस के मुख्य कार्यकारी और प्रबंध निदेशक एसडी शिबूलाल ने कहा कि आने वाले दिन सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग के लिए उत्साहजनक लगते हैं। हमारा मानना है कि वैश्विक आर्थिक हालात में सुधार हुआ है और हमारे ग्राहकों के अंदर रणनीतिक पहल में निवेश करने विश्वास बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि कंपनी ने वृद्धि के मौके के हासिल करने के लिए अपनी अलग पहचान बनाए रखी है। शिबूलाल ने कहा कि सांगठनिक ढांचे में हाल में हुए बदलाव से हमें ग्राहकों से संबंध मजबूत बनाने और बाजार की हिस्सेदारी बढ़ाने में मदद मिली।

इंफोसिस ने 31 मार्च 2014 को समाप्त वित्त वर्ष के दौरान आय में वृद्धि का अनुमान बढ़ाकर 24.4-24.9 प्रतिशत कर दिया, जबकि पहले 21-22 प्रतिशत की बढ़ोतरी का अनुमान जताया गया था। कंपनी का शेयर बंबई शेयर बाजार में 1.88 प्रतिशत चढ़कर 3,515.90 रुपए पर कारोबार कर रहा था।

इंफोसिस के पास दिसंबर के अंत में 27,440 करोड़ रुपए की नकदी और नकदी समकक्ष परिपत्तियां थीं, जबकि सितंबर के अंत में यह आंकड़ा 26,907 करोड़ रुपए का था। डॉलर के लिहाज से कंपनी का मुनाफा अक्टूबर-दिसंबर,13 में 6.7 प्रतिशत बढ़कर 46.3 करोड़ डॉलर हो गया जो पिछले साल की इसी अवधि में 9.9 प्रतिशत बढ़कर 2.1 अरब डॉलर हो गया था।

इंफोसिस ने चालू वित्त वर्ष के लिए आय में वृद्धि का अनुमान बढ़ाकर 11.5-12 प्रतिशत हो गया जो इससे पहले 9 से 10 प्रतिशत था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंफोसिस ने अपने मुनाफे में लगाई लंबी छलांग