DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राशि गबन मामले में जेएसएस पर होगी प्राथमिकी

गिरिडीह प्रतिनिधि। समाहरणालय स्थित सभा कक्ष में गुरुवार को जिला समन्वय समिति की बैठक में गड़बड़ी करने वाले कई जेई, एई, जेएसएस (जूनियर सांख्यिकी पर्यवेक्षक) व अभिकर्ता डीसी के निशाने पर रहे। डीसी ने जहां जमुआ के जेएसएस पर राशि गबन के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है वहीं सात अभिकर्ता को निलंबित करने के लिए विभाग को लिखने का आदेश दिया है।

अनुपस्थित रहनेवाले लोगों पर भी स्पष्टीकरण की गाज गिरी है। बैठक में डीसी दीप्रवा लकड़ा ने कहा कि योजनाओं का चयन कर ग्राम सभा से पारित कर जिला को भेजें तथा पूर्व की योजनाओं का उपयोगति प्रमाण पत्र शीघ्र उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि 2012-13 की योजनांतर्गत 3037 इन्दिरा आवास का फोटो अपलोड हो गया है। शेष इंदिरा आवास का फोटो अविलंब अपलोड करें। उन्होंने साप्ताहिक प्रतविेदन जनसेवकों से प्राप्त कर जिला को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। डीसी लकड़ा ने कहा कि यदि जांच में मस्टर रोल कार्य स्थल पर नहीं मिलता है तो सम्बंधित रोजगार सेवक पर प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

डीसी ने बैठक में अनुपस्थित बगोदर के जेई, एई और राजधनवार के सहायक अभियंता से स्पष्टीकरण मांगने का निर्देश दिया, जबकि कार्य में अनियमितता बरतने के कारण अभिकर्ता शवशिंकर राम, जयराम वशि्वकर्मा, छोटू मुर्मू, नारायण राय, इसीदोरे हेम्ब्रम, बासुदेव बैठा, इम्तियाज अहमद को निलम्बित करने हेतु संबंधित विभागों को लिखने का निर्देश दिया।

डीसी ने जमुआ के जेएसएस डोमन चौधरी पर राशि गबन करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया। डीसी आधार संख्या संग्रहण में धीमी गति से भी बैठक के दौरान नाराज दिखे तथा आधार संग्रहण में तेजी लाने का सख्त निर्देश दिया।

बैठक में डीडीसी प्रमोद कुमार गुप्ता, डीपीओ देवेंद्र गौतम, डीपीआरओ बीरू प्रसाद कुशवाहा, जिले के विभिन्न प्रखंडों के बीडीओ, जेई, एई समेत कई अधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राशि गबन मामले में जेएसएस पर होगी प्राथमिकी