DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाराहाट के राहुल की मां के नहीं सूख रहे आंसू

बाराहाट, संजीव कुमार। बांका के बाराहाट के सिघौन गांव का राहुल की मां अंबिका देवी की आंखें आंसू से भरे रहते हैं। राहुल के पिता लक्ष्मीकांत चौहान की मौत तीन साल पूर्व लीवर कैंसर से हो गई थी। वह घर का इकलौता बेटा है। जेल में बंद होने के कारण उसकी मां, बहन साधना, वंदना, जूली व सोनी खोई-खोई सी रहती है। राहुल मारवाड़ी कॉलेज में बीए पार्ट वन का छात्र है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसे खूब पीटा।

अंबिका देवी ने बताया कि जेल के अंदर राहुल की हालत खराब हो गयी है। वह सुबह-शाम वे जेल में बंद अपने पुत्र राहुल के लौटने का इंतजार करती है। उनका पुत्र राहुल पहले से ही बीमार है। उसका इलाज दुर्गापुर के एक निजी क्लीनिक से चल रहा है। पुलिस की मार एवं जेल में बंद रहने की वजह से उसकी तबियत और भी बिगड़ गयी है। अंबिका देवी ने बताया कि राहुल कॉलेज पढ़ने के लिए जा रहा था इसी दौरान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बाराहाट के राहुल की मां के नहीं सूख रहे आंसू