DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नियोजित शिक्षकों को नियत वेतन ऋण की सुविधा

भागलपुर। कार्यालय संवाददाता। नियोजित शिक्षकों को नए साल के उपहार के रूप में बैंक से ऋण लेने की सुविधा दी गई है। अब शिक्षक एक साल के नियत वेतन के आधार पर बैंक से ऋण ले सकते हैं। विभाग के इस फैसले से शिक्षकों में खुशी है। भागलपुर में नियोजित शिक्षकों का खाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है। यह बैंक प्रत्येक शिक्षक को इस सुविधा का लाभ देगा।

भारतीय स्टेट बैंक विशेष उपहार ऋण योजना के तहत 31 जनवरी तक बैंक ने आवेदन की तारीख तय की है। बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष पूरण कुमार ने बताया कि शिक्षक लगातार 2003 से इसकी मांग कर रहे थे, अंतत शिक्षकों की जीत हुई और विभाग ने यह फैसला लिया है। योजना के तहत एक शिक्षक बैंक से एक वर्ष में जितना पैसा होता है, उतनी राशि ऋण के रूप में ले सकेंगे। अगर किसी शिक्षक को एक साल में एक लाख रुपए मिलता है तो वह शिक्षक बैंक से इतनी ही राशि लोन ले सकता है।

हालांकि यह सुविधा 31 जनवरी तक दी गई है, उसके बाद छह महीने के वेतन की राशि ही लोन के रूप में ली जा सकेगी। ऋण अदायगी 6 महीने तक कशि्त और उसके बाद एकमुश्त के रूप में की जा सकती है। अधिकतम पांच वर्ष में राशि जमा करना अनिवार्य है। शिक्षक बैंक फॉर्म को भरकर ऋण योजना का लाभ ले सकते हैं। ऋण लेने के लिए शिक्षकों को दो हजार रुपए का स्टाम्प, शैक्षणिक योग्यता प्रमाण-पत्र, आवासीय प्रमाण-पत्र, भारतीय जीवन बीमा रसीद लाना अनिवार्य है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नियोजित शिक्षकों को नियत वेतन ऋण की सुविधा