DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तहसील में लटके रहे ताले, नहीं हुआ काम

लखनऊ। संवाददाता

सदर तहसील का कामकाज एक बार फिर से अिनशि्चतकाल के लिए ठप हो गया। बुधवार को वकीलों के हाथ बेरहमी से पीटे गए लेखपाल कुलदीप यादव के लिए तहसील के सभी कर्मी गुरुवार को हड़ताल पर रहे। तहसील के किसी भी न्यायालय में न तो काम हुआ और न ही से खतौनी, आय, जाित व िनवास प्रमाण-पत्र बनाने का कोई काम हो सका।

इससे काकोरी, सरोजनीनगर, िचनहट व शहर में अपनी जमीन से जुड़े मुकदमों की पैरवी के लिए तारीख पर पहुंचे लोगों को मायूसी हुई। सरोजनीनगर से आए सुशील गुप्ता ने कहा कि तहसील किर्मयों व वकीलों की दबंगई पर भी अब हाईकोर्ट को हस्तक्षेप करना चाहिए। उधर, वजीरगंज पुलिस ने इस मामले में नामजद वकील केके यादव के खिलाफ एफआईआर करने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की है। तहसील हटेगी तभी फिर से करेंगे काम लेखपाल संघ के साथ कलेक्ट्रेट संघ ने गुरुवार को दो टूक शब्दों में एडीएम प्रशासन देवेन्द्र कुमार पाण्डे से कह दिया कि जब तक तहसील कैसरबाग से नहीं हटेगी तब तक वे काम पर नहीं लौटेंगे।

लेखपाल संघ केजिंलाध्यक्ष सुशील शुक्ल के इस निर्णय का समर्थन करते हुए कानूनगो व कलेक्ट्रेट संघ ने भी तहसील में अपने किसी भी कर्मचारी को काम पर भेजने से मना कर दिया। उनके इस फैसले का अमीन संघ व िलिपक संवर्ग ने भी समर्थन किया है। इस तरह तहसील में नायब तहसीलदार को छोड़कर सभी कर्मचािरयों ने हड़ताल पर रहने का ऐलान कर दिया है। खतौनी की नकल का मांगते हैं पैसा रायल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नयन सिंह राठौर ने कहा कि वकील व लेखपाल के विवाद में न्यायालय को बंद करना कहां से जायज है।

दूर-दराज से अपने मुकदमों की सुनवाई के लिए आने वाले मुविक्कलों को वापस लौटाना कतई ठीक नहीं है। दोनों के बीच मारपीट के लिए असल दोषी तहसील कर्मी ही हैं। तहसील िदवस में खतौनी का काउंटर सिरे्फ 10 से दो बजे तक खोला जाता है। 15 पेज की नकल तय कीमत में देने के बजाए 100 रुपए से अधिक वसूले जाते हैं। गणतंत्र िदवस के िनमंत्रण व वोटर कार्ड नहीं बांटेंगे लेखपालों नेजिंला प्रशासन की मुसीबत बढ़ाने के लिए एक और निर्णय लिया है।

वे गणतंत्र िदवस के िनमंत्रण कार्ड भी नहीं बांटेंगे। इसके अलावा घर-घर वोटर कार्ड बांटने, 31 जनवरी को मतदान केन्द्रों पर वोटर सूची िदखाने व पंजीकरण केन्द्र पर जमा होने वाले फार्म का सत्यापन का काम भी नहीं करेंगे। तहसील हड़ताल में नहीं, शोक में बंद रही एडीएम-प्रशासन देवेन्द्र कुमार पाण्डे ने इससे इनकार किया है कि तहसील में गुरुवार को लेखपाल व अन्य कर्मी हड़ताल पर रहे। उन्होंने बताया कि एक लेखपाल कृष्णपाल यादव की आकिस्मक मौत के शोक में तहसील में कामकाज बंद था।

तहसील शुक्रवार को सामान्य तरीके से काम करेंगी। नायब तहसीलदारों को बांटने पड़े ‘इशि्कयां’ के िनमंत्रण डीएम अनुराग यादव को देर शाम लेखपाल व कानूनगो के नहीं माने पर िफल्म ‘इशि्कयां’ के प्रीिमयर का िनमंत्रण कार्ड बांटने कीजिंम्मेदारी सदर तहसील के नायब तहसीलदार को सौंपनी पड़ी। ऐसे में उन्हें रात में 150 से अधिक वीआईपी को कार्ड देने की मशक्कत करनी पड़ी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तहसील में लटके रहे ताले, नहीं हुआ काम