DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीडीए में भी होगी दखल ‘आप’की

नई दिल्ली प्रमुख संवाददाता

दिल्ली में आप की सरकार बनने को लेकर जितनी उत्सुकता लोगों में थी, उससे कहीं अधिक इंतजार डीडीए, एनडीएमसी को भी है। दोनों में ही चुनी हुई सरकार की ओर से प्रतिनिधियों को बोर्ड परिषद और बोर्ड सदस्य के तौर पर शामिल किया जाना है। लेकिन अब तक नाम घोषित न होने की वजह से एनडीएमसी की सलाना बजट बैठक टल चुकी है, वहीं डीडीए भी बोर्ड सदस्यों में जनप्रतिनिधियों की अधूरी संख्या के साथ ही अपनी बोर्ड बैठक करने के लिए मजबूर है।

वैसे डीडीए के समक्ष एमसीडी के तीन टुकड़े होने से भी समस्या बनी हुई है, क्योंकि पहले एमसीडी की ओर से एक प्रतिनिधि बोर्ड सदस्य होता था। नए नियम के बनने के बाद अब यह संख्या बढ़कर तीन हो जाएगी। जानकारी के अनुसार नई दिल्ली नगर पालिका परिषद के बोर्ड में शामिल होने वाले दो नए सदस्यों के आने से पहले ही अधिकारियों की नींद उड़ी हुई है। नियमानुसार दोनों सदस्य नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से नव निर्वाचित विधायक अरविन्द केजरीवाल और दिल्ली कैंट विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक सुरेंद्र सिंह होंगे।

बोर्ड के सदस्य के रूप में इन विधायकों को शामिल करने की प्रक्रिया एनडीएमसी ने शुरू कर दी है। लेकिन अब तक केंद्रीय गृहमंत्रालय से इस संबंध कोई अधिसूचना जारी नहीं हो सकी है। ऐसे में बजट बैठक के टलने की पूरी संभावना है। गौरतलब है कि नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से चुने जाने वाला विधायक और सीएम अरविंद केजरीवाल को बजट काउंसिल के अध्यक्ष के रूप में इसमें शामिल होना है। चूंकि दोनों सदस्य आप पार्टी से होंगे ऐसे में एनडीएमसी के अधिकारियों में पुराने कार्य को लेकर कुछ परेशानी महसूस हो रही है।

सूत्रों की मानें तो ताज मानसिंह होटल की लीज डीड, कनॉट प्लेस के रेनोवेशन पर दिक्कत हो सकती है। उधर डीडीए में पुराने बोर्ड सदस्यों की सदस्यता समाप्त होने के बाद अब एक सदस्य जितेंद्र कोचर उर्फ जीतू के अलावा सभी पद खाली हैं। ऐसे में डीडीए अधिकारियों को आप पार्टी की ओर से दिये जाने वाले नाम का इंतजार है। इसके अलावा नया नियम बनने के बाद एमसीडी के कौन से तीन सदस्यों को बोर्ड में शामिल करना होगा,यह भी उनके लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

डीडीए अधिकारी का कहना है कि शुक्रवार को बारह सदस्यों वाली बोर्ड बैठक का कोरम पूरा हो रहा है, इसलिए बैठक होगी। नए सदस्यों को बाद में शामिल किया जाएगा। बाक्स::दिल्ली अर्बन आर्ट कमशिन-डीयूएसी भी शीघ्र ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व आप पार्टी से जुड़े उनके मंत्रियों को एक कार्यक्रम में बुलाएगी। बेहतर रहन-सहन और शहर को सुंदर रखने से संबंधित प्रस्तुतिकरण भी उनके समक्ष होगा। विषय के संबंध में डीयूएसी शहरी विकास मंत्रालय के समक्ष शहर, पर्यावरण व अनधिकृत कालोनियों व झुग्गी बस्तियों को लेकर प्रस्तुति दे चुकी है।

वैसे भी शहर को सुंदर रखने और रहन-सहन लायक बनाए रखने से जुड़े पहलुओं पर गौर करने के लिए डीयूएसी को विशेषतौर पर जिम्मेवारी दी हुई है ताकि वह अध्ययन व अन्य रसिरे्च के जरिये इस कार्य को बखूबी अंजाम दे सके। डीयूएसी अपने कार्यक्रम में अनधिकृत कालोनियों व झुग्गी बस्ती के विकास के पायलट प्रोजेक्ट को पेश करेगी, जिसके पश्चात उसे अन्य सवििक एजेंसियों के पास भेजा जाएगा। वैसे इस कार्यक्रम में विपक्ष के नेताओं को भी आमंत्रित किया जाना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीडीए में भी होगी दखल ‘आप’की