DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस ने आप की प्रशंसा को लेकर रमेश की खिंचाई की

कांग्रेस ने आप की प्रशंसा को लेकर रमेश की खिंचाई की

केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने गुरुवार को अपने आप को एक और विवाद में पाया जब कांग्रेस ने उनके द्वारा आम आदमी पार्टी की जम कर प्रशंसा करने को लेकर उनकी खिंचाई की।

कांग्रेस महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने आम आदमी पार्टी पर रमेश के बयान के बारे में पूछे जाने पर कहा कि ऐसी टिप्पणियां सिर्फ ऐसे व्यक्ति की ओर से आ सकती हैं जो राजनीतिक कार्यकर्ता नहीं है और बिना तपस्या से गुजरे पार्टी में प्रमुखता मिली है। लेकिन साथ ही कहा कि वह किसी खास व्यक्ति का उल्लेख नहीं कर रहे हैं।

द्विवेदी ने कहा कि कुछ व्यक्तियों की यह राय हो सकती है। वे बहुत उत्साही हो सकते हैं। लेकिन अगर आप बारीकी से देखें, सिर्फ उन्हीं लोगों को भ्रम हैं जो खुद राजनीतिक कार्यकर्ता नहीं रहे हैं जिन्होंने वह पीड़ा नहीं झेली है। जो लोग यह नहीं जानते कि एक राजनीतिक दल गठित करने और एक राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में काम करने में किसी को कितनी पीड़ा से गुजरना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि किसी को पहचान हासिल करने के पहले कितने संघर्ष से गुजरना पड़ता है । जिनकी पहचान अचानक बन जाती है वे कुछ भी कह सकते हैं क्योंकि उन्होंने वह पीड़ा नहीं भुगती है, तपस्या से नहीं गुजरे हैं।

कांग्रेस के प्रमुख रणनीतिकार और केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश ने कल राजनीतिक वर्ग से कहा कि वह आम आदमी पार्टी :आप: का मजाक नहीं बनाए और आगाह किया कि आप दशावतार जैसी है और यह पार्टी वाजिब मुद्दों पर राज्यों में अलग अलग अवतार ले सकती है ।

द्विवेदी ने हालांकि कहा कि अरविंद केजरीवाल की पार्टी के बारे में अंतिम निष्कर्ष देना विवेकपूर्ण नहीं होगा जिस पार्टी ने भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर सिर्फ एक राज्य में चुनाव जीता है। दिल्ली में केजरीवाल की सरकार कांग्रेस के बाहरी समर्थन पर टिकी हुई है । आप ने आगामी लोकसभा चुनाव में करीब 300 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की घोषणा की है और साथ ही कांग्रेस शासित हरियाणा में विधानसभा चुनाव लड़ने का भी ऐलान किया है । पार्टी ने अमेठी में राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने की भी घोषणा की है।

पार्टी में यह भी राय है कि कांग्रेस ने आप को समर्थन देने की हड़बड़ी में घोषणा की और बेहतर होता कि वह विपक्ष में बैठती और सरकार बनाने की चुनौती भाजपा और आप पर छोड़ देती। कांग्रेस नेता ने कहा कि हम ऐसे समय से गुजर रहे हैं कि आप से जुड़े किसी मामले पर निष्कर्ष देना विवेकपूर्ण नहीं होगा । फिलहाल वे कुछ लोगों का समूह है । उन्होंने एक मुद्दा उठाया और पार्टी का गठन किया और उसे समर्थन मिला उसने एक राज्य में सरकार बनायी । मुददा भ्रष्टाचार का था।

उन्होंने कहा कि इससे कौन असहमत हो सकता है । जनता यह महसूस करती है कि हर कोई यह कहता है लेकिन कोई अमल नहीं करता । उन्होंने यह सवाल उठाया और जवाब में उन्हें समर्थन मिला । एक मुददा उठाकर और भावना उजागर कर समर्थन प्राप्त करना अलग चीज है, लेकिन व्यवस्था को चलाने के लिए कुछ व्यवस्था की जरूरत होती है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस ने 'आप' की प्रशंसा पर रमेश की खिंचाई की