DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाइपलाइन पर आगे बढ़ेंगे भारत-पाक

भारत व पाकिस्तान के बीच शुक्रवार को हुई वार्ता में ईरान-पाक-भारत गैस पाइपलाइन परियोजना पर जल्द से जल्द आगे बढ़ने की प्रतिबद्धता जताई गई। पाक ने प्रस्तावित पाइपलाइन को फूल प्रूफ सिक्यूरिटी देने का वादा किया है। पाकिस्तान चाहता है कि उसकी व ईरान की इस परियोजना में भारत जरूर शामिल हो। उसने भारत को आगाह भी किया कि अगर उसने इसमें हीलाहवाली की तो वह ईरान के साथ अकेले ही इस परियोजना पर काम बढ़ाने के लिए बाध्य हो जाएगा। भारत यात्रा पर आए पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने यहां पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री मुरली देवड़ा के साथ एक अनौपचारिक मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पाकिस्तान पाइपलाइन पर इसलिए कहीं अधिक गंभीर है क्योंकि अपेक्षित गैस की उपलब्धता न होने से उसकी अर्थव्यवस्था प्रभावित हो रही है। उन्होंने कहा कि जहां तक इस पाइपलाइन को लेकर भारत और पाक के द्विपक्षीय मसलों का सवाल है, उन सभी को हल कर लिया गया है। अब ऐसा कोई मसला नहीं रह गया है जिसके चलते भारत इस मामले में कोई देर लगाये। ईरान सरकार की ओर से गैस डिलीवरी प्वांइट अपनी ही सीमा पर रखने के एक सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कोई बड़ा मुद्दा नही है और अगर भारत को कोई समस्या पेश आती भी है तो इसे परियोजना में विलंब का कारण हरगिज नहीं बनने दिया जाएगा। परियोजना के सुरक्षा पहलुओं पर बात करते हुये उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इस पाइपलाइन को फूल प्रूफ सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करेगा। भारत की ओर से इसकी सुरक्षा को लेकर जो भी चिंताएं है, पाक उनका हर हाल में निराकरण करने के लिए तैयार है। गैस की मूल्यों को लेकर उन्होंने कहा, पाकिस्तान ने ईरान से सेल-परचेज एग्रीमेंट कर लिया है। मैं समझता हूं कि यह अध्याय समाप्त हो गया है और उसके पन्ने दोबारा खोलने की कोई जरूरत ही नहीं है। अब इस पाइपलाइन को जल्द से जल्द शुरू करने की दिशा में कदम उठाने की जरूरत है। इस मौके पर देवड़ा ने भी पाइपलाइन परियोजना को जल्द से जल्द आगे बढ़ाने की बात दोहराई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पाइपलाइन पर आगे बढ़ेंगे भारत-पाक