DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरामद हुई नाबालिग, अगवा के बाद किया दुष्कर्म

रांची। संवाददाता। रहस्यमय तरीके से अगवा हुई सिमडेगा की नाबालिग को पुलिस ने बरामद कर लिया है। नाबालिग को नामकुम के लोवाडीह में लेबर कांट्रेक्टर मोहनलाल महतो के घर से बरामद किया गया। वह मूल रूप से अनगड़ा के सिरका नयाटोली का रहने वाला है। मोहनलाल ने अगवा छात्रा के साथ रविवार की रात दुष्कर्म भी किया था। कोतवाली पुलिस को दिए बयान में नाबालिग छात्रा ने दुष्कर्म की बात बतायी है।

पुलिस ने छात्रा की मेडिकल जांच करवायी है। पुलिस ने मोहनलाल को गिरफ्तार कर मेडिकल जांच के बाद जेल भेज दिया।

कैसे हुई बरामदगीः रविवार को अपहरण के बाद नाबालिग को मोहनलाल के किराए के मकान में रखा गया था। दुष्कर्म के बाद मोहनलाल ने उसे घर में ही बंधक रखा था। आरोपी मोहन की पत्नी मकान के ही ऊपरी तल्ले पर रहती है, जबकि नाबालिग को उसने मकान के निचले हिस्से में रखा था। उसने सोमवार को उसे घरेलू कामकाज में भी लगाया।

मंगलवार की रात ने मोहन नेअपने पड़ोसी से संपर्क किया और सारी बात बतायी। इसके बाद पड़ोसी ने इसकी जानकारी नामकुम पुलिस को दी। देर रात नामकुम पुलिस ने मोहनलाल के यहां छापेमारी कर छात्रा को मुक्त कराया।

छात्रा को मुक्त कराए जाने के बाद कोतवाली पुलिस को बुधवार की सुबह जानकारी दी गई। छात्रा ने बतायी अपहरण की कहानीछात्रा ने बताया कि वह अपने दोस्त ब्रजेश डुंगडुंग के साथ रविवार को रांची आयी थी। मछलीघर के पास एक मोटरसाइकिल सवार आया।

उसने हेलमेट पहन रखा था। उस व्यक्ति ने ब्रजेश और उसे धमकाया, फिर साथ नहीं चलने पर थाना चलने को कहा। मोरहाबादी के पास शौच के लिए जब ब्रजेश उतरा तो बाइक सवार उसे लेकर बढ़ गया।

कांटाटोली के पास बाइक सवार ने उसे मोहनलाल को सौंप दिया। मोहन उसे लेकर लोवाडीह आया, जहां रात में उसके साथ दुष्कर्म हुआ। कौन है अभिषेकमोहनलाल ने बताया कि अभिषेक नाम के एक युवक ने उसे छात्रा को सौंपा था। बकौल मोहन अभिषेक भी लेबर कांट्रेक्टर है।

काम के सिलसिले में उसकी मुलाकात उससे हुई थी। कांटोटाली में अभिषेक ने लड़की को सौंपते हुए कहा था कि उसके पिता का एक्सीडेंट हो गया है, तब तक वह छात्रा को अपने यहां रखे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बरामद हुई नाबालिग, अगवा के बाद किया दुष्कर्म