DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुखिया संघ ने प्रखंड कार्यालय में की तालाबंदी

बिक्रमगंज। हिन्दुस्तान टीम। जनगणना में सुधान की मांग को ले अनुमंडल के विभिन्न प्रखंड कार्यालयों में बुधवार को मुखिया संघ द्वारा तालाबंदी की गयी। 2011 की जनगणना में भारी पैमाने पर गड़बड़ी की मुखियों ने मांग की। साथ ही शिक्षकों पर जनगणना का कार्य ईमानदारी पूर्वक नहीं किए जाने का आरोप लगाते हुए अधिकारियो के विरुद्घ नारे भी लगाए। बिक्रमगंज मुखिया संघ अध्यक्ष विनय प्रकाश चौधरी, काराकाट अध्यक्ष वशि्वनाथ शर्मा, दावथ अध्यक्ष रामाशंकर सिंह के नेतृत्व में प्रखंड कार्यालयों में तालाबंदी की गयी।

कार्यालयो में तालाबंदी के बाद संघ द्वारा बैठक आयोजित की गयी। जिसमें वक्ताओं ने कहा कि 2011 में शिक्षकों द्वारा किए गए जनगणना काफी दोष पूर्ण हैं। जनगणना के लिए प्रतिनियुक्त शिक्षकों द्वारा पूरे गांव का आंकड़ा एक जगह बैठकर संग्रहित किया गया है। इस कारण कई गरीब योजनाओं के लाभ से वंचित हो जायेंगे। मौके पर मुखिया अमित सिंह, संतोष दूबे, उमरावती देवी, चंचला देवी, फहमीदा खातुन, अलगू सिंह, जितेन्द्र सिंह आदि थे। उधर, नोखा में प्रमुख उषा देवी की अध्यक्षता व मुखिया संघ अध्यक्ष बिंदेश्वरी सिंह के संचालन में मुखियों ने आठ सूत्री मांग को ले प्रखंड कार्यालय के समीप एक घंटे तक स्टेट हाइवे को जाम किया।

मौके पर पहुंचे बीडीओ चंद्रमा राम व दारोगा डीपी दूबे के समझाने पर लोग सड़क से हटे। मुखियों ने प्रखंड सह अंचल कार्यालय, नप कार्यालय, कृषि कार्यालय में काम बंद करा दिया। मौके पर रेहाना खातुन, अच्छे लाल सिंह, सुदामा राम, नगीना देवी, वृज बिहारी प्रसाद, मालाबाबू शर्मा, अरविन्द पटेल, अंतरबासो देवी आदि थीं। उधर, नासरीगंज में धरना व तालाबंदी कार्यक्रम की अध्यक्षता मुखिया संघ अध्यक्ष अजय सिंह व सचवि पवन प्रसाद ने किया। मौके पर मुन्ना प्रसाद, प्रमोद सिंह, कन्हैया सिंह आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुखिया संघ ने प्रखंड कार्यालय में की तालाबंदी