DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रधानाध्यापक ने करायी रंगदारी मांगने की प्राथमिकी

गोराडीह (सं.)। जहां एक तरफ मध्य विद्यालय सरकार अमानत का निरीक्षण करने जिप सदस्य व उपप्रमुख के साथ कई ग्रामीण पहुंचे, वहीं दूसरी तरफ प्रधानाध्यापक वमिल ठाकुर ने गांव के तेरह लोगों पर रंगदारी मांगने का आरोप लगाते हुए थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार हेड़ाास्टर ने आरोप लगाया कि ग्रामीण नवल मंडल और उसके सहयोगियों ने 51 हजार रुपए की रंगदारी की मांग की है। छह माह पहले भी 50 हजार रंगदारी मांगी थी जो कि मैंने चेक के माध्यम से नवल मंडल को दिया था।

उस समय मैंने डर से प्राथमिकी नहीं करायी थी लेकिन फिर जब आज रंगदारी मांगी तब मैंने थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी। थाना प्रभारी राजेश कुमार ने बताया कि नवल मंडल, प्रकाश मंडल, रोहित तांती, अखिलेश मंडल, भवेश मंडल, सुरेश मंडल सहित तेरह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। वहीं नवल मंडल ने बताया कि मेरी पत्नी पंचायत समिति सदस्य है। स्कूल में पोशाक राशि नहीं बांटने और पिछले बार की छात्रवृत्ति राशि भी नहीं बांटने पर जिप सदस्य व उपप्रमुख के साथ स्कूल का निरीक्षण करने गए थे।

इसी वजह से हेड़ाास्टर ने झूठे केस में फंसाने का प्रयास किया है। हेड़ाास्टर वमिल ठाकुर स्कूल नहीं के बराबर आते हैं और जब भी आते हैं तो स्कूल में ही बैठकर शराब पीते हैं। जिसका विरोध मैंने और ग्रामीणों ने भी किया था। उस समय भी कई लोगों पर झूठे केस कर दिये थे। राशि वितरण नहीं करने की शिकायत मैंने लिखित रूप से बीईओ, डीईओ, जिला पदाधिकारी सहित कई पदाधिकारियों से की थी। इन्हीं बातों को लेकर हेड़ाास्टर ने मुझपर झूठे केस कर दिये। आज भी वे स्कूल नहीं आये थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रधानाध्यापक ने करायी रंगदारी मांगने की प्राथमिकी