DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्लीवाले घूसखोरों का खुद कर सकेंगे स्टिंग

दिल्ली सरकार ने भ्रष्टाचारियों और रिश्वतखोरों पर लगाम कसने के लिए बुधवार को एक हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी तरह की पहली हेल्पलाइन जारी करते हुए दिल्लीवालों से खुद स्टिंग करके भ्रष्टाचारियों को पकड़वाने का आह्वान किया।

क्या है मकसद: बकौल केजरीवाल इस हेल्पलाइन को शुरू करने का मकसद हर भ्रष्ट व्यक्ति के दिमाग में खौफ पैदा करना है। साथ ही उन्हें यह संदेश देना है कि या तो सुधर जाओ या सजा भुगतने को तैयार रहो। मुख्यमंत्री ने बीते 28 दिसंबर को रामलीला मैदान में शपथ लेने के बाद यह हेल्पलाइन नंबर शुरू करने का ऐलान किया था।

इसलिए हुई देरी: मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि इस इकाई में कर्मचारियों की अत्यधिक कमी और तकनीकी खामियों को दुरुस्त करने के कारण हेल्पलाइन शुरू करने में कुछ दिन का विलंब हुआ है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के लिए भ्रष्टाचार निरोधक टुकड़ियां गठित की गई हैं। ये हर समय किसी भी शिकायत पर कार्रवाई के लिए तत्पर रहेंगी। इसके अलावा उपराज्यपाल नजीब जंग ने भी दिल्ली पुलिस की कुछ प्रशिक्षित टुकड़ियां रिजर्व में रखी हैं। विजिलेंस और भ्रष्टाचार निरोधक इकाई इन टुकड़ियों को जरूरत पड़ने पर बुला सकेगी।

ये संभालेंगे जिम्मेदारी: भ्रष्टाचार निरोधक इकाई के सेवानिवृत्त संयुक्त आयुक्त एन दिलीप कुमार की निगरानी में यह हेल्पलाइन काम करेगी। स्टिंग विशेषज्ञ कुमार को सरकार ने इस सेवा के लिए सलाहकार नियुक्त किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्लीवाले घूसखोरों का खुद कर सकेंगे स्टिंग