DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस के अभियान में लड़कियों ने दिखाई दिलचस्पी

 वरिष्ठ संवाददाता। देहरादून

खाकी के सामने लड़कियों ने सवाल दागे। हाथों में एके-47 से लेकर मशीनगन उठाने में भी गुरेज नहीं की। घुड़सवारी की बारीकियां भी सीखी। फिर कैंट थाने पहुंचकर पुलिस की कार्यप्रणालि को करीब से जाना। पहले ही दिन पुलिस लाइन पहुंची करीब 250 लड़कियों ने महिला जागरूकता एवं सुरक्षा अभियान में खासी दिलचस्पी दिखाई है। यह अभियान 12 जनवरी तक चलेगा।

बुधवार को पुलिस लाइन में आईपीएस नवेदिता कुकरेती और एसएसपी केवल खुराना ने दीप प्रज्जवलित कर अभियान का शुभारंभ किया गया। पहले सत्र में एसपी मुख्यालय नवेदिता कुकरेती ने लड़कियों को यौन हिंसा की जानकारी दी। लड़कियों ने उनसे सवाल भी पूछे। केंद्रीय विद्यालय की प्रिंसिपल मधुबाला चतुर्वेदी ने महिला सशक्तिकरण के प्रयासों की जानकारी दी और अपने अनुभव भी शेयर किए। कॅरियर काउंसलर डा.मुकुल शर्मा ने छात्राओं को कॅरियर के विकल्प बताए। इस मौके पर ड्रग्स को लेकर एक नुक्कड़ नाटक के साथ ही डॉक्यूमेंट्री फिल्म भी दिखाई गई।

दूसरे सत्र को लेकर लड़कियां ज्यादा उत्साहित नजर आई। घुड़सवारी में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। फिर बारी आई पुलिस के पास मौजूद हथियारों के प्रदर्शन की। एसएसपी ने खुद बम डिस्पोजल से लेकर एके-47, मशीनगन समेत अन्य हथियारों की जानकारी उन्हें दी। शाम के वक्त सभी लड़कियों को कैंट थाने ले जाया गया। जहां उन्हें पुलिस की कार्यप्रणाली से अवगत कराया गया। पुलिस किस तरह काम करती है और आम आदमी अपनी शिकायत कैसे कर सकते हैं, इसकी जानकारी दी गई।

इन संस्थानों की छात्राएं हुई शामिलपहले दिन डीआईटी, जीआरडी, ग्राफिक एरा, जीजीआईसी रायपुर, दयानंद इंटर कॉलेज, बलूनी क्लासेस समेत अन्य शिक्षण संस्थाओं की छात्राएं अभियान में शामिल हुई। इस मौके पर महिला प्रोटक्शन अधिकारी रविंद्री मंद्रवाल, राष्ट्रीय जूडो खिलाड़ी रितु जोशी, जूडो कोच सतीश शर्मा, आईसीडीएस की उप निदेशक कामिनी गुप्ता शामिल रहे। सबने भुगती एक गलतीविशेषज्ञों से सवाल पूछने वाली लड़कियों को पुलिस की ओर से पेपर स्प्रे दिया गया। जो छेड़खानी या किसी तरह के हमले के दौरान प्रयोग किया जा सकता है।

स्प्रे बांटने के साथ ही संचालन कर रही सीओ मसूरी जया बलूनी ने स्प्रे का प्रयोग करने की नसीहत बार-बार दी। लेकिन इस बीच खचाखच भरे हॉल में किसी लड़की ने स्प्रे कर दिया। इससे हॉल में बैठी लड़कियां के साथ ही अन्य लोगों की आंखों में जलन होने लगी। करीब 15 मिनट तक सभी खांसते रहे। पंखे चलाकर आधे घंटे बाद स्थिति सामान्य हुई। आज के कार्यक्रम-ड्रग्स, कॅरियर और साइबर क्राइम पर वर्कशॉप-कंट्रोल रूम और साइबर क्राइम सेल का भ्रमण-जूडो, घुड़सवारी, फर्स्ट एड की स्पेशल क्लास-फायर सर्विस और हथियारों की खास प्रदर्शन।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस के अभियान में लड़कियों ने दिखाई दिलचस्पी