DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फोर्ब्स के युवा सितारों में 23 भारतीय मूल के

फोर्ब्स के युवा सितारों में 23 भारतीय मूल के

फोर्ब्स पत्रिका की सबसे प्रतिभाशाली युवा सितारों की सालाना सूची में भारतीय मूल के 20 से अधिक युवक-युवतियां शामिल हैं। पत्रिका ने वित्त, मीडिया, खेल और शिक्ष जैसे अलग-अलग क्षेत्रों की 30 साल के कम उम्र की इन युवा प्रतिभावों को विलक्षण करार दिया है जो फिलहाल दुनिया में अपने अपने ढंग से सकारात्मक परिवर्तन ला रहे हैं।

फोर्ब्स की 30 साल से कम उम्र के 30 सबसे सफल युवाओं (30 अंडर 30) की सूची में 15 विभिन्न क्षेत्रों के सफलतम युवा शामिल हैं जिनमें पॉप गायक जस्टिन बीबर, मिली सायरस, टेलर स्विफ्ट, ब्लागिंग प्लैटफार्म टंबलर के संस्थास्पक व मुख्य कार्यकारी डेविड कार्प, टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा और पाकिस्तान की महिलाओं अधिकारों की पैरोकार मलाला यूसुफजई शामिल हैं।

फोर्ब्स ने कहा यह युवा और महत्वाकांक्षी लोगों के लिए उत्साहजनक दौर है। कभी भी युवाओं के लिए ऐसा मौका नहीं मिला था। ये प्रतिभाएं संगठनों की संस्थापक और वित्त पोषक हैं। ये ब्रांड बनाने वाले और अच्छे काम करने वाले लोग सफलता की सीढियां चढ़ने के लिए किसी मुनासिब कैरियर का इंतजार नहीं कर रहे। उनकी महत्वाकाक्षाएं बहुत ऊंची हैं जो उस गतिशील, उद्यमी और बेसब्र डिजिटल दौर के अनुकूल है जिसमें वे पैदा हुए हैं।

पत्रिका की 450 सबसे सफल युवाओं की सूची में भारतीय मूल के 23 युवक-युवतियां शामिल हैं। इनमें से कोई भारत में ज्ञान केंद्र या साफ्टवेयर कंपनी की स्थापना कर रहा है जिससे शिक्षकों को कक्षा में हो रही गतिविधियों पर नजर रखने में मदद मिल सके, कोई अमेरिकी फुटबॉल टीम का उपाध्यक्ष है तो कोई विशिष्ट चाकलेट बुटीक का मामिल है।

वित्त क्षेत्र के युवा तुर्कों में 28 साल के गणेश बेतनभटला शामिल हैं जो निवेश कंपनी तलरा कैपिटल के प्रबंध निदेशक हैं। वित्तीय कंपनी डीडब्ल्यू इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट के कारोबारी ऋषभ दोषी की विशेषज्ञता ज्यादा मुनाफे और एनपीए में है। पोर्टफोलियो मैनेजर चैतन्य मेहरा 28 साल के हैं और ओश-जिफ कैपिटल मैनेजमेंट में पोर्टफोलियो प्रबंधक हैं।

निवेश कंपनी ग्रीनओक्स कैपिटल के संस्थापक नील मेहता 29 साल हैं जो करीब 60 करोड़ डॉलर की सम्पत्ति का निवेश का प्रबंधन करते हैं और ई-वाणिज्य से लेकर बीमा तक सभी उद्योगों में निवेश करते हैं। गमरोड के संस्थापक और मुख्यकार्यकारी साहिल लैविंजिया 21 साल हैं जिन्होंने एक इंटरनेट ऐप्लिकेशन बनाया है जिससे आनलाइन डिजिटल उत्पाद बेचने जल्दी और आसानी से बेचने में मदद मिलती है।

सामाजिक उद्यमियों में 29 साल के करण चोपड़ा शामिल हैं जिन्होंने एक संगठन गाडको की स्थापना की है वहां सबसे बड़ा चावल उत्पादक संगठन है। कृष्ण रामकुमार (28) ने मुंबई, दिल्ली, कानपुर और चेन्नई में शिक्षण केंद्रों के समूह अवंती की स्थापना की है जो 750 प्रतिभाशाली, निम्न आयवर्ग के स्कूली छात्रों को विज्ञान और गणित की शिक्षा प्रदान करता है।

इसके अलावा गरीब परिवारों को प्रदूषण रहित बिजली मुहैया कराने वाली फंट्रियर मार्केटस के अजयिता शाह 29 साल की हैं। 29 साल की कविता शुक्ला ने स्कूल की पढ़ाई के दौरान ही फ्रेशपेपर को ईजाद किया था और पेटेंट हासिल किया।

मेघा पारेख (28) अमेरिकी फुटबॉल टीम जैक्सनविले जैगुआर्स की उपाध्यक्ष हैं। इनके अलावा अमीर राव, दिव्या नाग, रघु चिवुकुला, सुरभी सरना, सैम चौधरी, सायमिंदु दासगुप्ता, प्रणव यादव, ईशा खरे और अदिति मल्होत्रा शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फोर्ब्स के युवा सितारों में 23 भारतीय मूल के