अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चोएसइबी अध्यक्ष को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश

ग्रामीणों द्वारा पैसा जमा करने के बाद भी बिजली नहीं मिलने के मामले में हाइकोर्ट ने जेएसइबी अध्यक्ष, टीवीएनएल के एमडी, जेएसइबी हाारीबाग एरिया के जीएम और ऊरा सचिव को दो जुलाई को अदालत में हाजिर होने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने कहा कि कोर्ट आने से पहले इसका हल भी निकाल लें। मामला बोकारो के बरकी पुन्नू गांव का है। 2001 में 354 ग्रामीणों ने बिजली के लिए 20 लाख रुपये जेएसइबी के खाते में जमा किये थे। जेएसइबी ने पोल, ट्रांसफरमर एवं बिजली के तार लगा दिये लेकिन बिजली नहीं दी गयी। इसे लेकर बिजली बोर्ड और टीवीएनएल में विवाद हो गया। ग्रामीणों ने हाइकोर्ट में जनहित याचिका दायर की। जिस पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने अधिकारियों को हाजिर होने का निर्देश दिया है।ड्ढr केंद्रीय निदेशक, सचिव और गोड्डा डीसी तलबड्ढr गोड्डा होमियोपैथिक कॉलेज के मामले को झारखंड हाइकोर्ट ने पीआइएल (ानहित याचिका) में तब्दील कर दिया है। इस मामले में केंद्रीय स्वास्थ्य निदेशक, भवन निर्माण विभाग के सचिव एवं गोड्डा डीसी को 14 जुलाई को हाइकोर्ट में हाजिर होने का निर्देश दिया गया है। गोड्डा होमियोपैथिक कॉलेज को संबद्धता देने को लेकर अभिषेक सानू की ओर से दायर याचिका में हाइकोर्ट ने पहले ही आदेश पारित किया था। आदेश में गोड्डा कॉलेज को संबद्धता देने की बात कही गयी थी। पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चोएसइबी अध्यक्ष को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश