DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुंदेलखंड में विरोधियों को ललकारेगी सपा

उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पूर्वाचल और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सियासी ताकत दिखाने के बाद अब 11 जनवरी को बुंदेलखंड के झांसी में रैली करके अपने विरोधियों को ललकारेगी।

पार्टी सूत्रों के अनुसार, इस रैली के मुख्य अतिथि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव होंगे। पार्टी ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविंद चौधरी को रैली का पर्यवेक्षक बनाया गया है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेंद्र मोदी द्वारा उप्र में शुरू की गई रैलियों के मुकाबले सपा ने अपनी सियासी ताकत दिखाने की शुरुआत 8 नवंबर को आजमगढ़ से की थी। इसके बाद पार्टी ने विकास योजनाओं के जरिए मैनपुरी में भी बड़ी रैली की। फिर पश्चिमी यूपी में मोदी द्वारा आगरा में आयोजित की गई रैली के दिन ही मुलायम ने भी बरेली में अपनी सियासी ताकत दिखाई।

इस रैली के जरिए सपा ने विरोधी दलों को संदेश देने की कोशिश की थी कि उप्र में सांप्रदायिक ताकतों का मुकाबला सपा ही कर सकती है। पार्टी ने अभी हाल में ही बदायूं में भी रैली आयोजित की। इस रैली में भी जुटी भीड़ से सपा नेतृत्व के हौसले बुलंद हैं। सपा नेतृत्व ने अब झांसी में रैली करने का ऐलान किया है।

पार्टी प्रवक्ता व कारागार मंत्री राजेंद्र चौधरी के मुताबिक रैली के पर्यवेक्षक बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविंद चौधरी बनाए गए हैं। उनके साथ आयोजन समिति के सदस्यों पूर्व सांसद चंद्रपाल यादव, घनश्याम अनुरागी, विधायक दीपक कुमार, रश्मि आर्या, विधायक दयाशंकर वर्मा, जिलाध्यक्ष संत सिंह सेरसा, महानगर अध्यक्ष असलम शेर खां, सोहराब खां तथा महेंद्र यादव को जिम्मेदारी दी गई है।

रैली में झांसी, जालौन, ललितपुर, महोबा, हमीरपुर, बांदा, औरैया, कानपुर देहात और कानपुर नगर से बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता और सभी वर्गो के लोग शामिल होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बुंदेलखंड में विरोधियों को ललकारेगी सपा