DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू में छात्र खुद डिजाइन कर सकेंगे ऑनलाइन कोर्स

दिल्ली विश्वविद्यालय में जल्द ही ऑनलाइन कोर्स शुरू किए जाएंगे। इन्हें न सिर्फ डीयू के बल्कि बाहरी छात्र भी कर सकेंगे। इनकी खास बात यह है कि छात्र इन्हें खुद से डिजाइन कर सकेंगे। ये अकादमिक कोर्स से अलग होंगे।

क्या है मकसद: कुलपति प्रो. दिनेश सिंह ने बताया कि इसका मकसद छात्रों को अकादमिक विषयों के साथ अन्य कोर्स से भी रूबरू कराना है ताकि वे अपने क्षेत्र से अलग दूसरे विषय भी जान सकें। इतना ही नहीं, ये कोर्स ज्यादा रोजगारपरक होंगे। ये सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स होंगे।

6-18 माह होगी अवधि: इनकी अवधि छह से 18 महीने तक की होगी। दिलचस्प यह है कि कोई भी घर बैठे इन्हें कर सकेगा। पूरी सामग्री ऑनलाइन उपलब्ध होगी। बाकायदा ऑनलाइन लेक्चर की व्यवस्था होगी। इतना ही नहीं, जिस तरह से चार साल के डिग्री प्रोग्राम में छात्रों को खुद की पसंद से कोर्स बनाने और पढ़ने का अधिकार दिया गया है उसी तरह इन ऑनलाइन कोर्स को भी छात्र खुद डिजाइन कर सकेंगे। इस प्रक्रिया में छात्रों को ग्रुप में विषय के बारे में प्रजेंटेशन देनी होगी।

ऐसे किया जाएगा तैयार
1. कोई सोशल मीडिया मार्केटिंग पर कोर्स डिजाइन करना चाहता हो तो उसे इससे जुड़ी सामग्री देनी होगी
2. इनमें वो क्या पढ़ना चाहते हैं और क्यों, कितनी अवधि में क्या पढ़ाया जा सकता है, जैसी चीजें बतानी होंगी
3. कोर्स किस विषय के होंगे, यह विश्वविद्यालय अपने स्तर पर और छात्रों की पसंद से तय करेंगे

पूर्व छात्र बनाएंगे पाठय़क्रम
आईआईटी दिल्ली में अब उसके पूर्व छात्र कोर्स तैयार करेंगे। आईआईटी के निदेशक आर.के शेवगांवकर ने बताया कि जो छात्र दिल्ली के संस्थान से डिग्री हासिल कर उद्योग जगत में बेहतर कर रहे हैं, वे पाठय़क्रम बनाएंगे।

प्रतिभा समूह बनेगा  
प्रतिभा समूह दो तरह काम करेगा।
1.  पूर्व छात्रों की मदद से अंतरराष्ट्रीय स्तर के लिए विद्यार्थियों को तैयार किया जाएगा। साथ ही इसके जरिए छात्रों को वित्तीय सहयोग दिया जाएगा
2. समूह से जुड़ने वाले शिक्षकों को विश्वस्तरीय बनाने के लिए कोष तैयार किया जाएगा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीयू में छात्र खुद डिजाइन कर सकेंगे ऑनलाइन कोर्स