DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिक्शा चालक की हत्या, मुखिया सहित चार पर केस

भागलपुर, वरीय संवाददाता। भागलपुर विवि के प्रोफेसर कालोनी के पास सोमवार रात अपराधियों ने बांका के धोरैया पटवा गांव के रिक्शा चालक पवन पासवान (35 वर्ष) की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी।

पवन पांच साल से भागलपुर में रिक्शा चलाता था। मंगलवार सुबह कॉलोनी के बाल निकेतन विद्यालय परिसर में शव देखकर लोगों की भीड़ लग गई। कुछ देर बाद एक रिक्शा चालक ने शव की शिनाख्त की।

बाद में मेडिकल कालेज पहुंची पवन की पत्नी सुधो देवी ने पटवा पंचायत के मुखिया संजय सिंह, अनिरुद्ध साह और दो महिला पर पति की हत्या करने का आरोप लगाया। नगर डीएसपी वीणा कुमारी ने बताया कि रिक्शा चालक की हत्या साजशि के तहत की गई है।

घटना से जुड़े बिंदुओं की जांच की जा रही है। पुलिस ने शव मिलने की जगह से एक बिछी हुई चादर, शराब की बोतल, तीन ग्लास, सगिरेट का पैकेट, गड़ासा व छूरा बरामद किया है। कुछ ही दूरी पर पवन का रिक्शा भी मिला है।

मौके पर जांच करने पहुंचे नगर डीएसपी वीणा कुमारी, कोतवाली इंस्पेक्टर जगदानंद ठाकुर और विवि थाना प्रभारी परशुराम प्रसाद ने कहा कि हत्या सुनियोजित तरीके से की गई है। उन्होंने मामला जल्द सुलझा लेने का दावा किया।

इशाकचक कबाड़ी टोला के मो. शहादत ने बताया कि वह रिक्शा का खटाल चलाता है और एक पैर से विकलांग पवन पांच साल से रिक्शा चला रहा था। शाम को रिक्शा लेकर जाता था और दूसरे दिन सुबह रिक्शा खटाल में लगाकर वहीं सो जाता था।

मंगलवार की सुबह लालूचक के तेतर पासी ने बताया कि पवन की हत्या कर दी गई है। मो. शहादत ने बताया कि पवन सोमवार शाम तीन बजे रिक्शा लेकर खटाल से निकला था। पवन गांजा तो पीता था लेकिन कभी शराब पीते नहीं देखा था।

उसकी जेब से तीन सौ रुपए मिला है। सुधो देवी ने बताया कि पवन की किसी से दुश्मनी नहीं थी। गांव की एक लड़की की शादी लोदीपुर गांव में हुई। महीने दिन पहले पति ने गांव के मुखिया संजय सिंह और अनिरुद्ध साह उर्फ अनिरुद्ध सोनार को लोदीपुर में ब्याही गई लड़की और उसकी भौजाई को देखा था। चारों लोग एक होटल चले गए थे। चारों को कई बार रात में होटल जाते देख पति ने गांव के लोगों को जानकारी दे दी थी।

इससे मुखिया और अनिरुद्ध काफी नाराज हो गया था। अनरुद्ध ने पति का सिर फोड़ दिया था और तेजाब लेकर जलाने की कोशशि भी की थी। मुखिया ने हत्या करवा देने की धमकी भी दी थी। सुधो ने बताया कि पति हर आठ-दस दिनपर घर आते थे और पैसा देकर लौट जाते थे।

मुखिया का घर अगल-बगल में है और सोमवार को मुखिया भागलपुर के लिए निकले थे। सुबह मुखिया ने ही पति की हत्या की जानकारी दी। विश्वविद्यालय थाना प्रभारी ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रिक्शा चालक की हत्या, मुखिया सहित चार पर केस