DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएमसीएच में नर्सिग की छात्राओं ने किया पथरावं

परीक्षा से वंचित पीएमसीएच नर्सिग स्कूल की छात्राओं ने शुक्रवार को मैट्रन आवास और प्राचार्य कार्यालय पर हंगामा और रोड़ेबाजी किया। हंगामे के बीच मैट्रन अपने आवास में घंटों कैद रही जबकि स्कूल की प्राचार्या को ईंट-पत्थरों से चोट लगी। इस अराजक स्थिति में कितनी छात्राएं परीक्षा में शामिल हुई इसकी जानकारी स्कूल प्रशासन को नहीं है।ड्ढr ड्ढr नर्सिग स्कूल की परीक्षा से वंचित छात्राओं का आक्रोश फूट पड़ा। तृतीय वर्ष की ओल्ड बैच और न्यू कोर्स की छात्राओं ने एडमिट कार्ड न मिलने और परीक्षा में वंचित होने को लेकर प्राचार्य सावित्री अग्रहरी और मैट्रन ज्ञानमयी चौधरी के आवास पर जमकर रोड़ेबाजी की। रोड़े बरसाने के बाद छात्राएं परिसर में एकत्रित होकर प्रदर्शन करने लगी। इससे भय का माहौल व्याप्त था। नर्सिग काउंसिल द्वारा जारी पांच छात्राओं के एडमिट कार्ड का भी पूरा वितरण नहीं हो सका। सिर्फ चार छात्राओं को ही एडमिट कार्ड दिया जा सका। प्राचार्या अग्रहरी ने बताया कि सुनीता द्वितीय को खबर देने के बाद भी एडमिट कार्ड लेने नहीं पहुंची।ड्ढr ड्ढr वह छात्रावास से ही भय के कारण नहीं निकली। पुलिस सुरक्षा में प्राचार्या पीएमसीएच पहुंची थी। इसके बावजूद वह छात्राओं के आक्रोश से नहीं बच सकी। उधर छात्राओं ने मैट्रन ज्ञामयी चौधरी के आवास का गेट तोड़ते हुए पथराव किया। अंत में अस्पताल प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद मैट्रन ने इस घटना की शिकायत अस्पताल प्रशासन से की। इसके लिए छात्राओं को अपना कोर्स करने की आवश्यकता है। हंगामें का कारण यह था कि ओल्ड कोर्स की 5और न्यू कोर्स की 16 छात्राएं कोर्स पूरा न करने के कारण परीक्षा से वंचित कर दी गयी थीं। इसी दौरान उनका अधूरा परीक्षा फार्म काउंसिल में जमा कराया गया था।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीएमसीएच में नर्सिग की छात्राओं ने किया पथरावं