DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तय समय से पिछड़ गई मेट्रो

 लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता

लखनऊ मेट्रो का काम तय समय से पिछड़ गया है। दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन ने मेट्रो का काम शुरू करने की जो समय सीमा तय की थी अब वह पार हो गई। अभी तक काम शुरू कराने के लिए टेण्डर तक नहीं हो पाया है। अब टर्न-की के आधार पर मेट्रो काम कराया जाना है।

यह काम कौन कम्पनी करेगी उसी का चयन नहीं हो पाया है। ऐसे में इस प्रोजेक्ट का अभी कुछ और लेट होना तय है। फिलहाल इसी महीने मेट्रो के शिलान्यास के कयास लगाए जा रहे हैं। अधिकारी 15 जनवरी तक इस पर निर्णय की बात कर रहे हैं। लखनऊ मेट्रो रेल का प्रोजेक्ट पहले काफी तेजी से आगे बढ़ रहा था लेकिन अब इसमें कुछ ब्रेक लग गई है। डीएमआरसी ने मेट्रो का डीपीआर तैयार करने के साथ इसका टाइम शेडय़ूल तय कर दिया था।

इसके हिसाब से एक जनवरी से मेट्रो का काम शुरू हो जाता था जो नहीं हो पाया। सामान्य कन्सल्टेंट का भी चयन भी हो जाना था लेकिन यह भी नहीं हो पाया है।

यह है मेट्रो प्रोजेक्ट अनुपालन शेडय़ूलकाम्स कम्प्लीशन की प्रस्तावित तारीखडीपीआर देने की तारीख 25 जुलाई 2013राज्य सरकार से मंजूरी 31 जुलाई 2013केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय में डीपीआरजमा करने की तारीख 15 अगस्त 2013शुरुआती कामों के लिए अन्तरिम कन्सल्टेंटके चयन का काम 15 सितम्बर 2013हाई पावर कमेटी से डीपीआर की मंजूरी 30 सितम्बर 2013कैबिनेट से प्रोजेक्ट की मंजूरी एक अक्टूबर 2013सामान्य कन्सल्टेंट का चयन एक जनवरी 2014कामशुरू कराने की तारीख एक जनवरी 2014कोच व अन्य इक्यूपमेंट खरीदने की तारीख 31 दिसम्बर 2017टेस्टिंग एवं कमिस्निंग एक जनवरी 2018 से 31 मार्च 2018 तकपब्लिक के लिए मेट्रो शुरू होने की तारीख एक अप्रैल 2018

----=अमौसी से आलमबाग तक 2017 में मेट्रो दौड़ाने की योजनायह शेडय़ूल पूरे नार्थ-साउथ कॉरिडोर (अमौसी से मुंशी पुलिया) के लिए बनाया गया था लेकिनपहले अमौसी से आलमबाग तक काम शुरू होगा।

इसे प्राथमिक सेक्शन के रूप में चहि्न्ति किया गया है। एक जनवरी 2014 को काम शुरू होने पर इस सेक्शन पर मेट्रो का परीक्षण एक जनवरी 2017 को शुरू हो जाता। एक अप्रैल 2017 से मेट्रो जनता के लिए शुरू हो जाती लेकिन शेडय़ूल के हिसाब से काम न होने से इस तिथि में विलम्ब की संभावना है।

-----------------------------=इसलिए लेट हुआ प्रोजेक्ट डीएमआरसी पैटर्न पर मेट्रो का काम पहले बिल्कुल समय से चल रहा था। लेकिन दो महीने पहले इसका काम टर्न-की के आधार कराने पर चर्चा शुरू हो गई।

पहले डीएमआरसी इस काम के लिए लगा हुआ था लेकिन बीच में कुछ लोगों ने रेल विकास निगम से सम्पर्क साधा। रेल विकास निगम के आने के बाद टर्न-की के आधार पर काम शुरू कराने की बात शुरू हो गई। इसके बाद प्रोजेक्ट लगातार लेट होता जा रहा है। रेल विकास निगम टर्न की के आधार पर काम करने को तैयार है लेकिन डीएमआरसी ने इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तय समय से पिछड़ गई मेट्रो