DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चोरी का आरोप लगाकर डॉक्टरों ने किया हमला

 कानपुर। निज संवाददाता

जेके कैंसर अस्पताल के हॉस्टल में रहने वाले 30-40 डॉक्टर चोरी का आरोप लगाकर एक हाता में घुस गए। आरोप है कि वहां उन्होंने एक परिवार के मुखिया, उनकी पत्नी, बच्चों और मां को लात-घूंसों से पीटा।

घर में तोड़फोड़ की। महिलाओं के कपड़े तक फट गए। सूचना देने के बावजूद पुलिस नहीं आई तो पीड़ितों ने स्वरूपनगर थाने जाकर हंगामा किया। जेके कैंसर अस्पताल परिसर के हॉस्टल में रहने वाले डॉक्टरों के कमरों में बीते सप्ताह चोरी हो गई थी। लैपटॉप समेत हजारों का माल गायब हो गया था। डॉक्टरों की शिकायत पर स्वरूपनगर पुलिस ने अस्पताल के पीछे स्थित राधेश्याम के हाता में रहने वाले चंद्रपाल के 13 वर्षीय बेटे लकी को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

आरोप सिद्ध नहीं हुआ तो पुलिस ने उसे छोड़ दिया। मंगलवार को फिर से एक डॉक्टर के कमरे में लगा ताला तोड़ दिया गया। इससे नाराज होकर 30-40 डॉक्टर हाता में घुस गए। चंद्रपाल के घर को घेरकर डॉक्टरों ने उनसे लकी को बुलाने के लिए कहा। चंद्रपाल का आरोप है कि उन्होंने बेटे को बुलाने की वजह पूछी तो डॉक्टर उन्हें पीटने लगे। घर से घसीटकर सड़क पर पटक दिया। पत्नी विजयलक्ष्मी ने बचाने की कोशशि की तो उनके बाल पकड़कर पीटा।

मां को बचाने दौड़े बच्चों मुस्कान, सौम्या और तान्या को भी डॉक्टरों ने नहीं छोड़ा। वृद्ध मां रानी बीच में आईं तो उन्हें तमाचा मारकर गिरा दिया। मोहल्ले के लोगों ने कंट्रोल रूम पर सूचना दी, लेकिन एक घंटे तक पुलिस नहीं आई। डॉक्टरों का कहना था कि लकी पर उन्हें चोरी करने का संदेह है, वह उसे अपने साथ ले जाएंगे। पुलिस के न आने पर पीड़ित चद्रपाल ने परिवार और आसपास के लोगों के साथ हंगामा करते हुए स्वरूपनग थाने पहुंच गए।

एसओ ने उनकी तहरीर लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया और पीड़ितों को घर भेज दिया। डॉक्टरों का पक्ष जानने के लिए जेके कैंसर अस्पताल के निदेशक डॉ. एके दीक्षित को फोन किया गया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चोरी का आरोप लगाकर डॉक्टरों ने किया हमला