DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑनलाइन स्पेस में रखें अपना डाटा

ऑनलाइन स्पेस में रखें अपना डाटा

बात चाहे मोबाइल के खोने की हो या फिर हार्ड ड्राइव, मेमोरी कॉर्ड और पेन ड्राइव की। सभी में यूजर को डाटा का नुकसान उठाना पड़ता है। कई बार इन डाटा स्टोर करने की डिवाइस के डैमेज होने पर डाटा डिलीट हो जाता है। वचरुअल वर्ल्ड में इन दिनों ऑनलाइन डाटा स्टोर करने का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है।

गूगल और माइक्रोसॉफ्ट के अलावा कई अन्य कंपनियां यूजर को फ्री में डाटा स्टोर करने सुविधा दे रही हैं। मोबाइल के बाद स्मार्टफोन ने हमारी जिंदगी को बेहद आसान बना दिया है। स्मार्टफोन में तेजी से जुड़ रहे फीचर नई-नई सुविधाएं दे रहे हैं। हालांकि स्मार्टफोन में डाटा स्टोर करने की समस्या बड़ा मुद्दा बना हुआ है। सोनी ने स्मार्टफोन की इस समस्या को सुलझाने के लिए हाल ही में एक पेन ड्राइव लॉन्च की है, जिसे स्मार्टफोन और टैबलेट दोनों से कनेक्ट किया जा सकता है। सोनी की यह पेन ड्राइव इन दिनों खासी चर्चा में है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक स्मार्टफोन के डाटा के लिए क्लाउड या फिर ऑनलाइन स्टोरेज ज्यादा बेहतर विकल्प हैं। ऑनलाइन स्टोर का ट्रेंड विदेशों में तेजी से बढ़ रहा है यही वजह है कि अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट को गूगल का क्रोमबुक कड़ी टक्कर दे रहा है। क्रोमबुक में डाटा और सभी फाइल को ऑनलाइन स्टोर करने की सुविधा है।

स्टोरेज के आठ अड्डे
स्काई ड्राइव

गूगल की ही तरह माइक्रोसॉफ्ट ने क्लाउड स्टोरेज के लिए स्काई ड्राइव की सुविधा दे रखी है। स्काई ड्राइव में यूजर सात जीबी डाटा स्टोर कर सकते हैं।

गूगल ड्राइव
गूगल अपने यूजर को 15 जीबी तक क्लाउड स्टरोज की सुविधा देता है।

ड्रॉप बॉक्स
इसमें यूजर को पांच जीबी तक का फ्री स्पेस मिलता है। बॉक्स अपने यूजर को ऑनलाइन स्पेस खरीदने की भी सुविधा देता है। यूजर 25 जीबी क्लाउड स्पेस खरीद सकता है। उसको इसके लिए करीब 700 सौ रुपये देने होंगे।

उबन्टू वन
माइक्रोसॉफ्ट और गूगल की तरह लाइनेक्स ने भी क्लाउड स्टोरेज की सुविधा दे रखी है। लाइनेक्स का यह प्लेटफॉर्म उबन्टू के नाम से है। उबन्टू पर भी यूजर को पांच जीबी स्टोरेज की सुविधा उपलब्ध है।

मेगा
गूगल ड्राइव और ड्रॉप बॉक्स स्मार्टफोन के यूजर के लिए मेगा क्लाउड स्टोरेज की नई सुविधा लेकर आया है। इसमें यूजर को आठ जीबी की फाइल स्टोरेज की सुविधा मिलती है। इसके साथ आठ जीबी के दूसरे सेगमेंट में मोबाइल का बैकअप भी ले सकते हैं। मेगा के इस फीचर की खूबी यह है मोबाइल खोने की स्थिति में यूजर को अपने जरूरी डाटा के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। 

सुगर सिंक
सुगर सिंक पर भी अन्य प्लेटफॉर्म की तरह पांच जीबी डाटा को स्टोर करने की सुविधा है।

वेरीजन क्लाउड
वेरीजन क्लाउड ड्रॉप बॉक्स की तरह एक ऐप है लेकिन इसमें स्टोरेज सुविधा अधिक न होने के कारण यह ज्यादा पॉपुलर नहीं है। वेरीजन पर सिर्फ 500 एमबी डाटा स्टोरेज की सुविधा है।

कबी:
यह एक ऐप है इंटरनेट यूजर को डाटा स्टोर करने की सुविधा देता है। कबी पर यूजर पांच जीबी तक अपना डाटा स्टोर कर सकते हैं।

कैसे करें डाटा स्टोर?
डाटा स्टोर की सुविधा देने वाले ये सभी ऐप गूगल प्ले और दूसरे ऐप स्टोर पर उपलब्ध हैं। यूजर इन्हें वहां से डाउनलोड करके अपना डाटा स्टोर कर सकते हैं।
मोबाइल यूजर के पास से डाटा पहले नेटवर्क ऑपरेटर के पास जाता है।
मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर के पास से डाटा इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर के पास जाता है।
अंत में डाटा क्लाउड सर्विस प्रोवाइडर के सर्वर में जाकर सुरिक्षत हो जाता है।
डाटा को वापस डाउनलोड करने की प्रक्रिया इन्हीं चरणों से होकर गुजरती है।

फ्यूचर फोन में नहीं है कार्ड स्लॉट
क्लाउड स्टोरेज के बढ़ते ट्रेंड को देखते हुए स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों ने बिना एसडी कार्ड के स्लॉट वाले हैंडसेट बनाने शुरू कर दिए है। एप्पल के आईफोन-5 में एसडी कार्ड या एक्सटनरल स्टोरेज की कोई व्यवस्था नहीं है। बस इंटरनल स्टोरेज है। कुछ ऐसी ही स्थिति एलजी के कर्व डिस्प्ले वाले जी-फ्लेक्स और गूगल नेक्सस-3 व लेनेवो के9-100 में है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑनलाइन स्पेस में रखें अपना डाटा