DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पश्चिम बंगाल गैंगरेप: परिजन मिले राष्ट्रपति से

पश्चिम बंगाल गैंगरेप: परिजन मिले राष्ट्रपति से

पश्चिम बंगाल में दो बार सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई 16 साल की लड़की के परिवार वालों ने मंगलवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात कर घटना की सीबीआई जांच कराने एवं कथित लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। बाद में पीड़िता की हत्या कर दी गई थी।

माकपा नेता सीताराम येचुरी, वृंदा करात एवं श्यामल चक्रवर्ती के साथ यहां राष्ट्रपति भवन गए। पीड़िता के पिता ने मुखर्जी को एक ज्ञापन सौंपा। इसमें चंद पुलिस, अस्पताल एवं स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों सहित अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में उनसे फौरन हस्तक्षेप की मांग की गयी है।

ज्ञापन में उन्होंने उस दिन से घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा दिया है जब उनकी किशोरवय लड़की के साथ पहली बार बलात्कार कर उसे खेत में फेंक दिया गया। बाद में उसने जब पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई तो उससे फिर बलात्कार किया गया और इसके बाद उसे जलाकर मार दिया गया।
   
पुलिस एवं अस्पताल अधिकारियों की ओर से लापरवाही का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि पुलिस उनकी लड़की के शव को उठाकर ले गयी और उसका अंतिम संस्कार करने का प्रयास किया। इसके बाद कोई फारेंसिक परीक्षण नहीं करवाया गया। माकपा सूत्रों के अनुसार समझा जाता है कि राष्ट्रपति ने लड़की के पिता की बात को धैर्य से सुना और उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी शिकायत को केन्द्रीय गृह मंत्रालय के पास भेजा जाएगा।

ज्ञापन में पीड़िता के पिता ने कहा, 31 दिसंबर 2013 को मेरी बेटी की मौत के बाद मैंने फारेंसिक परीक्षण के अनुरोध वाला एक पत्र भेजा लेकिन उसे आग लगाए जाने के 12 दिनों बाद भी कोई फारेंसिक परीक्षण नहीं करवाया गया। इससे पूर्व लड़की के पिता ने आज दिन में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा से मिलकर अपराध करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।
    
ममता ने कहा कि हमने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि लड़की के परिवार के साथ र्दुव्यवहार करने वाले पुलिस अधिकारियों को निलंबित किया जाए और उनके खिलाफ जांच शुरू की जाए। उन्होंने आज यहां लड़की के परिजनों से मुलाकात के बाद यह बात कही।
  
उन्होंने कहा कि हमने ममता बनर्जी से यह भी कहा है कि वह पीड़िता के परिवार को पुलिस सुरक्षा प्रदान करवाये और मुआवजा दे। उन्होंने कहा कि आयोग का एक शिष्टमंडल शीघ्र ही पश्चिम बंगाल का दौरा करेगा और वहां स्थिति का संज्ञान लेगा। इस शिष्टमंडल में महिला संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। पीड़िता के पिता ने पुलिसकर्मियों और आर जी कार मेडिकल कालेज अस्पताल के स्वास्थ्य अधिकारियों सहित इस अपराध में शामिल सभी लोगों के खिलाफ निष्पक्ष जांच कराने की भी मांग की है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पश्चिम बंगाल गैंगरेप: परिजन मिले राष्ट्रपति से