DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करुणानिधि ने परोक्ष रूप से अलागिरी को दी चेतावनी

करुणानिधि ने परोक्ष रूप से अलागिरी को दी चेतावनी

द्रमुक में नेतृत्व को लेकर करुणानिधि परिवार में झगड़े के बीच पार्टी प्रमुख एम करुणानिधि ने मदुरै में रहने वाले अपने बेटे एमके अलागिरी को परोक्ष तौर पर चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि जो भी पार्टी के फरमान के खिलाफ जाएगा उसे निष्कासित कर दिया जाएगा।

लोकसभा चुनाव के लिए द्रमुक के विजयकांत नीत डीएमडीके के साथ समझौते के लिए अलागिरी की कथित टिप्पणी से नाराज करुणानिधि ने कहा कि उन्होंने खुद पार्टी अध्यक्ष के तौर पर दोनों के बीच गठबंधन की संभावना को लेकर खुशी का इजहार किया।

ऐसी खबरें थीं कि अलागिरी ने द्रमुक-डीएमडीके के बीच गठबंधन के खिलाफ टिप्पणी की थी। अलागिरी के बयान से खुद को अलग करने की कोशिश करते हुए करुणानिधि ने कहा कि अगर वो सही है तो उनके और द्रमुक के बीच कोई संबंध नहीं है। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि गठबंधन की संभावना पर कार्यकारिणी और आम परिषद या अधिकत आलाकमान को फैसला करना है।

अलागिरी का बयान करुणानिधि के द्रमुक और डीएमडीके के बीच गठबंधन का स्वागत करने वाले बयान के विपरीत था। करुणानिधि ने कहा कि यह न सिर्फ खेदजनक है बल्कि निंदनीय भी है। उन्होंने कहा कि मैं यह साफ करता हूं कि जो लोग इस तरह का अनावश्यक विरोधाभासी बयान देंगे और इस प्रकार पार्टी के अनुशासन को प्रभावित करेंगे, चाहे वो जो कोई भी हों, उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की जाएगी और उन्हें यहां तक कि पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी निष्कासित कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह फैसला हमेशा द्रमुक के सभी सदस्यों पर लागू होगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:करुणानिधि ने परोक्ष रूप से अलागिरी को दी चेतावनी