DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उलटी दौड़ में नये रिकार्ड बना रहे जागडा

हरियाणा में हिसार जिले के बैक वाक यानि उल्टी दौड़ में विश्व रिकार्ड बनाने वाले वैद्य रत्न देव जागड़ा 62 वर्ष की उम्र में भी ऐसे-ऐसे कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं जिसे देखकर हर कोई दांतों तले उगली दबाने को मजबूर हो जाता है।

हासी के गांव जमावड़ी में जन्मे वैद्य रत्न देव जागड़ा ने 15 दिसबर 2013 को दिल्ली में हापक मैराथन में उल्टा दौड़कर विश्व रिकार्ड कायम किया। अन्तर्राष्ट्रीय एयरटेल दिल्ली हापक मैराथन-21 किलोमीटर में उन्होंने जागड़ा ने विश्व इतिहास में पहली बार बैक वाक करके दो घंटे 55 मिनट में मैराथन उल्टी दौड़ कर नया कीर्तिमान स्थापित किया है।

अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन में यह पहला प्रयास था जिसे मान्यता देने के लिए भी अन्तर्राष्ट्रीय निर्णायक मण्डल को भी आपातीय बैठक करके निर्णय लेना पड़ा, तभी इसे मान्यता प्राप्त हुई।

विश्व कीर्तिमान स्थापित करने के लिए वैद्य रत्नदेव 19 अक्तूबर 1998 को हिसार के ऐतिहासिक गुजरी महल से रवाना हुए थे। विभिन्न पड़ावों से गुजरते हुए उनकी या 24 अकटूबर 1998 को दिल्ली स्थित राजघाट पर पूरी हुई थी। वैद्य रत्नदेव ने छह दिनो में 48 घंटे व 20 मिनट में 181 मिलोमीटर उल्टे दौड़कर गिनीज बुक में नाम दर्ज करवाने का प्रथम चरण पूरा किया था।

इस सपकलता से उत्साहित होकर रत्नदेव ने दूसरा चरण पूरा करने केलिए दिल्ली के रामलीला मैदान को चुना था। 30 दिसबर 1998 को उन्होंने यहा उल्टा दौड़ना शुरू किया और लगातार 21 घटे 40 मिनट तक दौड़ते हुए 164 किलोमीटर की दूरी तय करके उन्होंने विश्व कीर्तिमान बना डाला था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उलटी दौड़ में नये रिकार्ड बना रहे जागडा