DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बर्फीली हवाएं चलने से अमेरिका में कड़ाके की ठंड

बर्फीली हवाएं चलने से अमेरिका में कड़ाके की ठंड

आर्कटिक क्षेत्र से चलने वाली बर्फीली हवाओं के कारण अमेरिका में कड़ाके की ठंड पड़ रही है जिसकी वजह से हजारों उडानें रद्द कर दी गयी हैं और तमाम स्कूल और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद कर दिये गये हैं।

अमेरिका में पिछले दो दशकों के दौरान कल (सोमवार) सबसे कम तापमान होने के कारण कड़ाके की ठंड पड़ रही है। मिनिसोटा के व्रिमसन में तापमान शून्य से 40 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया, जो आर्कटिक की खाड़ी में स्थित कनाडा के न्यूनतम तापमान शून्य से 35 डिग्री सेल्सियस नीचे से भी कम है।

शिकागो समेत कई प्रांतों में कल से ही स्कूल बंद हैं। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू कयुमो ने आपात स्थिति घोषित कर दी है। उन्होंने कहा कि भीषण ठंड के कारण पश्चिमी न्यूयॉर्क के कुछ हिस्से बंद कर दिये गये हैं। पूरे देश में ठंड के कारण अब तक चार लोगों के मरने की खबर है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि ईंधन के जम जाने के कारण शिकागो के ओ हारे अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से आधे से अधिक उड़ानें रद्द कर दी गयी हैं। शिकागो का तापमान कल दोपहर बाद शून्य से 24 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया। विमानों में ईंधन भरना संभव नहीं हो पाने की वजह से उड़ानें रद्द की जा रही हैं।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार खराब मौसम के कारण अब तक चार हजार 392 उडानें रद्द कर दी गयी हैं और तीन हजार 577 उड़ानें देरी से हैं। व्राउनविले, टेक्सास और मध्य फ्लोरिडा में आने वाले दिनों में और सर्दी पड़ने की आशंका है।

अमेरिका के पूर्वोत्तर भाग में भी शीतलहर और बर्फबारी के कारण लोगों का जीना मुहाल हो गया है। मौसम विभाग ने बताया कि मध्य तथा उत्तरी अमेरिका में तापमान शून्य से 51 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया है। यहां लोगों को घरों से निकलने से पहले कई तरह के ऐहतियात बरतने पड़ रहे हैं।

डेट्राएट तथा शिकागो में भारी बर्फबारी से बर्फ की कई इंच मोटी परत जम गयी है। मौसम विभाग ने बताया कि अमेरिका के पूर्वोत्तर भाग के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हो सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बर्फीली हवाएं चलने से अमेरिका में कड़ाके की ठंड