DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माध्यमिक शिक्षकों ने टय़ूशन पढ़ाया तो होगी कार्रवाई

गोरखपुर। कार्यालय संवाददाता। शासकीय व मान्यता प्राप्त इण्टर कॉलेजों में अब शिक्षकों की मनमानी नहीं चलने पाएगी। शिक्षकों को अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के साथ ही अब आने व जाने का पूरा ब्योरा गेट पर रखे रजिस्टर में दर्ज करना होगा। जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस)सतीश सिंह की अध्यक्षता में सोमवार को समस्त माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यो व प्रबंधकों की बैठक हुई, जिसमें डीआईओएस ने कई अहम निर्णय लिए।

उन्होंने कहा कि आवागमन रजिस्टर बन जाने से शिक्षक मनमानी नहीं कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि बोर्ड परीक्षा सर पर है ऐसे में शिक्षक विद्यालयों में पठन-पाठन का माहौल बनाए रखें। कोई भी शिक्षक टम््यूशन पढ़ाते मिला तो उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

बैठक के दौरान उन्होंने प्रधानाचार्यो और प्रबंधकों को निर्देश दिया कि वह कक्षा 11 व 12 के छात्रों की छात्रवृति का डेटा दो दिन के अंदर उपलब्ध करा दें। इसके साथ ही जो शिक्षक, प्रधानाचार्य और कर्मचारी 30 जून तक रिटायर होने वाले हों उनकी पूरी जानकारी और फाइल समय से डीआईओएस कार्यालय पर उपलब्ध करा दें ताकि उनके पेंशन और जीपीएफ में किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माध्यमिक शिक्षकों ने टय़ूशन पढ़ाया तो होगी कार्रवाई