DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं रहे पूर्व मंत्री पीताम्बर पासवान

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पूर्व मंत्री व पूर्व सांसद पीताम्बर पासवान का सोमवार को निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। उनका ब्रेन हेमरेज हुआ था। मंगलवार को उनका दाह संस्कार पैतृक गांव समस्तीपुर जिला के नत्थुद्वार में किया जायेगा। 63 वर्षीय पासवान सात बार बिहार विधान सभा के सदस्य रह चुके थे। वे वर्ष 96 में लोकसभा सदस्य और राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे। उनके पार्थवि शरीर को देर शाम विधानसभा परिसर लाया गया।

यहां विधानसभाध्यक्ष की ओर से प्रभारी सचवि, मंत्री नीतीश मिश्रा, पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दिकी, अख्तरुल इस्लाम शाहीन, पूर्व विधायक रामचन्द्र पूर्वे, सुरेश पासवान, पूर्व सांसद आलोक मेहता आदि ने श्रद्धांजलि दी। राजद कार्यालय में भी उनका पार्थवि शरीर लाया गया।

राजद प्रमुख लालू प्रसाद, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने उनके निधन पर गहरी संवेदना प्रकट की। कहा कि पीताम्बर पासवान जमीन से जुड़े् नेता थे। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह, रघुनाथ झा, प्रधान महासचवि व सांसद रामकृपाल यादव, सांसद जगदानंद सिंह, प्रभुनाथ सिंह, प्रेमचन्द गुप्ता, विधान पार्षद प्रो. गुलाम गौस, पूर्व केंद्रीय मंत्री अली अशरफ फातमी, डॉ. कांति सिंह, प्रवक्ता रणधीर यादव सहित तमाम नेता ने शोक व्यक्त किया।

सीएम ने जताया शोकः राजकीय सम्मान के होगा अंतिम संस्कारपटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीताम्बर पासवान के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। उन्होंने घोषणा की कि स्वर्गीय पासवान का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ होगा। मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि वे एक प्रख्यात समाजसेवी एवं प्रसिद्घ राजनेता थे। उनके निधन से न केवल सामाजिक बल्कि राजनीति के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहीं रहे पूर्व मंत्री पीताम्बर पासवान