DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेट्रो में महिला जेबतराशों से रहें सावधान

मेट्रो में पुरुषों के मुकाबले महिला जेबतराशों से ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। सीआईएसएफ के मुताबिक वर्ष 2013 में कुल 466 जेबतराश पकड़े गए, जिनमें 421 महिलाएं थीं। जबकि 2012 में पकड़े गए 262 जेबकतरों में सिर्फ 40 फीसदी महिलाएं थीं।

एग्जीक्यूटिव जैसी दिखती हैं: करीब 90 फीसदी मामलों में पकड़ी गई महिलाओं के पहनावे और बोल-चाल को देखकर उन्हें पहचानना बहुत ही मुश्किल है। लैपटॉप, बैग, स्मार्टफोन और ब्रांडेड वस्त्र पहनकर समूह में चलने वाली ये महिलाएं बड़ी ही सफाई से अपने काम को अंजाम देती हैं। वे ऐसा दिखावा करती हैं जैसे किसी मल्टीनेशनल कंपनी की एग्जीक्यूटिव हों।

बनी विशेष टीम: सीआईएसएफ ने जेब तराशने वाली महिलाओं को पकड़ने के लिए महिलाओं की विशेष टीम भी तैनात की है। मेट्रो में 2012 के मुकाबले वर्ष 2013 में महिला जेबतराशों की संख्या दोगुनी हो गई।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेट्रो में महिला जेबतराशों से रहें सावधान