DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएमजी कहिन

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का यह कहना कि नरेंद्र मोदी देश के लिए विनाशकारी प्रधानमंत्री साबित होंगे, खुद पीएम की शरीफ और ईमानदार छवि को धूमिल करता है। उनसे ऐसी आशा नहीं थी। नरेंद्र मोदी अभी इस कुरसी से काफी दूर हैं, फिर भी प्रधानमंत्री ऐसा क्यों लगता है? माना कि इंसान गलतियों का पुतला है और उसे अपनी गलतियां प्राय: दिखाई नहीं देतीं तथा दुर्भाग्य से दूसरों की छोटी-सी गलती भी बड़ी लगती है। निष्पक्ष होकर कहें, तो देश की हालत अब भी खराब है। हर तरफ गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और अराजकता है। सीमा पर हमारे सैनिकों के सिर काटे गए और देश में घोटाले पर घोटाले हो रहे हैं। एक बच्ची से लेकर वृद्धा तक देश में महफूज नहीं है। ऐसे में, किसी पर अंगुली उठाना कहां तक सही है? यह भी समझने की जरूरत है कि नेताओं के सच और गलत का हिसाब जनता रखती है। इसलिए सभी को सोच-समझकर बोलना चाहिए।
वेद मामूरपुर, नरेला, दिल्ली

एक नया सितारा
इतवार को आमने-सामने में क्रिकेटर ईश्वर चंद पाडेय का रोचक इंटरव्यू पढ़ा। टीम इंडिया अपनी खराब बॉलिंग के कारण ही दक्षिण अफ्रीका में हारी। अब वह न्यूजीलैंड जा रही है। ऐसे में, यह देखना सुखद है कि चयनकर्ताओं ने जिन गेंदबाजों पर भरोसा जताया है, उनमें से एक नए उदीयमान गेंदबाज ईश्वर पांडेय भी हैं। अपने छोटे से करियर में यह लड़का बहुत नाम कमा चुका है और अब अंतरराष्ट्रीय टीम में शामिल हुआ है। इंटरव्यू में ईश्वर ने जो-जो बातें कही हैं, उनमें उनकी विनम्रता और एकाग्रता झलकती है। लेकिन मैक्ग्रा को आदर्श मानने वाले इस गेंदबाज के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती होगी अपने चयन को सही साबित करने की। पिछले कुछ समय में कई और नए सितारे चमके और धूमकेतु की तरह विलुप्त भी हो गए। इनमें अशोक डिंडा, परविंदर अवाना आदि नाम हैं। शामी ने संभवानाएं जगाई हैं। ऐसे में उन्हें ईश्वर का साथ मिले, तो टीम इंडिया की गेंदबाजी अवश्य ही पैनी हो जाएगी।
ऊषा आरोही वर्मा, दिल्ली

भाजपा की खीज
दिल्ली विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी, यानी आप की सरकार के विश्वास मत पर चर्चा के दौरान कांग्रेस इस पार्टी के बड़े भाई के समान दिखाई दी, जबकि भाजपा की खीज साफ दिखी। कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली जनादेश को शालीनता से स्वीकार करते नजर आए, उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर आप को पांच साल तक समर्थन दिया जा सकता है, इससे साबित होता है कि कांग्रेस पार्टी जन-भावनाओं का सम्मान करती है। किंतु विश्वास मत पर चर्चा के दौरान भाजपा ने आप पर जिस तरह का हमला किया, उसमें पार्टी की कुंठा और सरकार न बना पाने की हताशा थी। सच यह है कि भाजपा को लग रहा था कि जल्द ही विधानसभा के चुनाव होंगे। लेकिन आप ने सरकार बनाने का फैसला किया और कांग्रेस ने उसे समर्थन दिया, इससे भाजपा के सपनों पर पानी फिर गया। अब भाजपा को चाहिए कि वह आदर्श व रचनात्मक विपक्ष की भूमिका अपनाए, न कि बेवजह के मुद्दे उछाले।
अमरनाथ बब्बर, किशनगंज, दिल्ली

आम हो गए खास
दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की सरकार बनते ही आम आदमी पार्टी अब खास की जमात में शामिल हो गई है। इसीलिए एक बच्चे की गेंद से आम आदमी पार्टी की नेता राखी बिड़ला की गाड़ी का शीशा क्या टूटा, इस मामले पर एफआईआर दर्ज हो गई, जबकि तभी उस बच्चे और उसके पिता ने माफी मांग ली थी। अब तो दिल्ली में बच्चों का खेलना भी मुश्किल हो गया है। शायद पार्टी का तेवर बदलने लगा है। यह शुभ संकेत नहीं है। पहले बंगले का हल्ला उठा, फिर महंगी गाड़ी का मामला आया, और अब गेंद लगने को हमला बताया गया। लगता है लोगों को इस बार भी निराश होना पड़ेगा।
चंद्रप्रकाश जैन, दिल्ली

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीएमजी कहिन