DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अल्पसंख्यक-बहुसंख्यकवाद का खेल क्यों खेल रही सपा: भाजपा

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश इकाई ने सूबे की समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार पर आरोप लगाया है कि वह मुजफ्फरनगर में हुए दंगे के बाद से लगातार वोट बैंक की राजनीति कर रही है। भाजपा ने कहा कि सरकार अल्पसंख्यक और बहुसंख्यकवाद का खेल खेलना बंद करे।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि अब सरकार अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े नेताओं पर दंगे के दौरान दर्ज हुए मुकदमें हटाने की कोशिश में जुटी है। सपा सरकार की तुष्टीकरण की यह नीति आने वाले समय में उस पर ही भारी पड़ेगी।

पाठक ने कहा, ''सरकार मुजफ्फरनगर दंगे के बाद से ही लगातार एक तरफा फैसला ले रही है। पीडितों को मुआवजा देने में भी सरकार ने तुष्टीकरण का खेल खेला, लेकिन अदालत के हस्तक्षेप के बाद उसे अपने फैसले में बदलाव करना पड़ा। उसके बाद सपा के नेताओं ने राहत शिविरों में रह रहे लोगों के बारे में गलत प्रचार करना शुरू किया।''

भाजपा नेता ने कहा कि एक तरफ  तो दंगे में भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाकर भाजपा नेताओं के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) तक लगाई गई तो दूसरी ओर अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े नेताओं पर दर्ज किए गए विभिन्न मुकदमों को सरकार वापस लेने की तैयारी में जुटी हुई है।

उन्होंने कहा कि अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगाने में असफल रही अखिलेश सरकार अब लोगों का ध्यान भटकाने के लिए तुष्टीकरण का सहारा ले रही है। राहत शिविरों में ठंड की वजह से लगातार मौतें हो रही हैं।

पाठक ने कहा कि दंगे के दौरान पुलिस ने करीब छह हजार अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और अब उसी के नाम पर स्थानीय युवाओं का पुलिस उत्पीड़न कर रही है। सरकार को आम चुनाव में इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अल्पसंख्यक का खेल क्यों खेल रही सपा: भाजपा