DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जस्टिस गांगुली मामला: सुप्रीम कोर्ट में याचिका खारिज

जस्टिस गांगुली मामला: सुप्रीम कोर्ट में याचिका खारिज

इंटर्न के कथित यौन उत्पीड़न के आरोप में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश एके गांगुली को पश्चिम बंगाल मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष पद से हटाने को कोई भी प्रयास करने से केंद्र सरकार को रोकने को लेकर शीर्ष अदालत में दायर एक याचिका आज खरिज कर दी गई।

प्रधान न्यायाधीश पी. सदाशिवम की अध्यक्षता वाली खंडपीठ के समक्ष इस याचिका का दो दिन पहले उल्लेख किया गया था, जिसके बाद न्यायालय ने इस याचिका पर 6 जनवरी को सुनवाई का तारीख निर्धारित की। यह याचिका दिल्ली निवासी एम पद्मा नारायण सिंह ने दायर की थी, जो पेशे से डाक्टर हैं।

याचिकाकर्ता वरिष्ठ नागरिक भी है। उन्होंने याचिका में आरोप लगाया था कि गांगुली साजिश के शिकार हुए हैं, क्योंकि वह कोलकाता के प्रमुख फुटबॉल क्लब और ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन के बीच विवाद में आर्बीट्रेटर थे और इंटर्न ने भी इसमें हिस्सा लिया था।

याचिका में अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल इन्दिरा जयसिंह को भी प्रतिवादी बनाते हुए उन पर न्यायमूर्ति गांगुली को गैरकानूनी तरीके से गिरफ्तार कराने के सतत् प्रयास करने का आरोप लगाया था। याचिका में न्यायमूर्ति गांगुली को मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष पद से हटाने की मांग करने के कारण नेताओं की भी आलोचना की गई थी।

याचिका में दलील दी गई थी कि गांगुली का कृत्य यौन उत्पीड़न की श्रेणी में नहीं आता है, क्योंकि यौन उत्पीड़न कानून 2013 के तहत इस तरह की शिकायत तीन महीने के भीतर ही की जा सकती है, लेकिन इस मामले में इसका अनुपालन नहीं किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जस्टिस गांगुली मामला: सुप्रीम कोर्ट में याचिका खारिज