DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मौके पर ही बनने लगे खाद्य लाइसेंस

नोएडा। वरिष्ठ संवाददाता

खाद्य सामग्री की दुकान व उत्पादन करने वाली कंपनियों के लाइसेंस अब एक दिन में ही बनाकर दिए जाएंगे। इसके लिए शिविर लगाया जा रहा है। रविवार को हरौला में लगाए गए शिविर में कई दुकानदारों के लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन का प्रमाण पत्र जारी किया गया।

पहले इस प्रमाण पत्र के लिए 15 दिन तक खाद्य विभाग के कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता था। चार फरवरी तक प्रत्येक दूसरे दिन यह शिविर जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में लगाया जाएगा। खाद्य विभाग व डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन के तत्वावधान में रविवार को लगाए गए शिविर में 25 लाइसेंस व 30 रजिस्ट्रेशन के प्रमाण पत्र मौके पर ही जारी किए गए। सात जनवरी को भंगेल में शिविर लगाकर लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन का काम होगा। शिविर में नगद राशि देकर भी लाइसेंस बनवाया जा सकेगा।

इसकी रसीद संबंधित विभाग के अधिकारी मौके पर ही दे देंगे। जनपद 10 हजार से अधिक खाद्य उत्पाद बेचने वाले दुकान व उत्पादन करने वाली कंपनियां हैं। लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन से संबंधित सभी कार्य ऑनलाइन कर दिए गए हैं। ‘प्रत्येक दूसरे दिन पर जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में शिविर लगाकर लाइसेंस व रजिस्टेशन के प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। फरवरी तक डेढ़ हजार लाइसेंस व 3 हजार रजिस्ट्रेशन के प्रमाण पत्र जारी कर दिए जाएंगे। हरौला से इसकी शुरूआत कर दी गई है।

’एके जायसवाल, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी12 लाख से अधिक टर्नओवर वाली दुकानों को लेना होगा लाइसेंसएक वर्ष में 12 लाख का टर्नओवर करने वाली दुकान व कंपनियों को लाइसेंस बनवाना होगा। जबकि इससे नीचे तक के टर्न ओवर पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। लाइसेंस के के लिए 2 हजार रुपए व रजिस्ट्रेशन के लिए 100 रुपए की राशि देनी होगी। लाइसेंस के लिए एड्रेस व आईडी प्रूफ देना होगा। इसके अलावा रेंट एग्रीमेंट या खुद की दुकान होने पर उससे संबंधित कागजात मौके पर ही जमा करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मौके पर ही बनने लगे खाद्य लाइसेंस