DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमें पहले सुपात्र बनाना होगा: देवकी नन्दन

लखनऊ। निज संवाददाता

ईश्वर को प्राप्त करने के लिए हमें अपने को पहले सुपात्र बनाना होगा। धर्म की कसौटी पर खरा उतरना होगा क्योंकि भगवान सदैव सुपात्र को ही दर्शन देते है। यह बात वशि्व शांति सेवा समिति की ओर से बंगलाबाजार में चल रही श्रीमद् भागवत कथा के तीसरे दिन देवकी नन्दन ने कहीं। उन्होंने कहा कि ईश्वर सर्वव्यापक है, समय समय पर अपने भक्तों की रक्षा कर दुष्टों के संहार हेतु अवतार लेते हैं। हिरण्यकश्यप के अत्याचार से अपने भक्त प्रह्लाद की रक्षा हेतु खम्भे से प्रकट होकर हिरण्यकश्यप का वध किया।

दान की महिमा की चर्चा करते हुए देवकी नन्दन ने कहा कि हमें अपने संकल्प के अनुसार दान अवश्य करना चाहिए। समिति के धीरज तिवारी ने बताया कि कथा में सोमवार को श्रीकृष्ण जन्म की कथा होगी। कथा नौ जनवरी तक होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हमें पहले सुपात्र बनाना होगा: देवकी नन्दन