DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पोंजी स्कीमों में ऊंचे रिटर्न का दावा सिर्फ दावा: सेबी

पोंजी स्कीमों में ऊंचे रिटर्न का दावा सिर्फ दावा: सेबी

पोंजी स्कीमों की समस्या से निपटने के लिए सही वित्तीय उत्पाद तक आम निवेशकों की पहुंच सुनिश्चित करने की वकालत करते हुए बाजार नियामक सेबी ने कहा है कि यद्यपि बाजार में कई अच्छे उत्पाद उपलब्ध हैं, लेकिन वे अवैध कोषों द्वारा किए जा रहे ऊंचे रिटर्न दावों से मेल नहीं खाते।

सेबी चेयरमैन यूके सिन्हा ने कहा कि कोई भी अच्छा उत्पाद या वास्तवित निवेश साल दर साल 20-30-40 प्रतिशत रिटर्न का दावा नहीं कर सकता। वास्तव में ये ऊंचे रिटर्न का दावा करने वाली स्कीमें फर्जी होती हैं।

सिन्हा ने बताया कि इसलिए अक्सर यह सवाल उठता है कि क्या बाजार में अच्छे उत्पाद उपलब्ध हैं। इसका जवाब हां है, बाजार में कई अच्छे उत्पाद उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि समस्या सही उत्पाद आम निवेशकों तक पहुंचने में है। यदि आप ग्रामीण इलाके या छोटे कस्बे में रहते हैं तो संभव है कि प्रमाणित म्यूचुअल फंड सलाहकार आपकी पहुंच से दूर हो।

सिन्हा ने कहा कि इन अड़चनों की पहचान कर सेबी ने सही उत्पादों तक आम निवेशकों की पहुंच आसान बनाने के उपायों पर काम शुरू किया है। पिछले कुछ वर्षों में देश में अवैध स्कीमें कुकुरमुत्ते की तरह आ गई हैं, जिनमें से कइयों की प्रकति पोंजी कोषों की है जहां निवेशकों को शुरुआत में भारी रिटर्न दिया जाता है और बाद में स्कीम संचालक सभी निवेशकों को ठगकर लापता हो जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पोंजी स्कीमों में ऊंचे रिटर्न का दावा सिर्फ दावा: सेबी