DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओटीएस के प्रचार प्रसार पर खर्च होंगे 60 लाख

वाराणसी। मुसंबिजली के बकायेदार उपभोक्ताओं के लिए लागू एकमुश्त समाधान योजना (ओटीएस) के प्रचार प्रसार के लिए पावर कारपोरेशन ने 60 लाख रुपए अवमुक्त कर दिए हैं। शनिवार को कारपोरेशन के एमडी एपी मिश्र ने भिखारीपुर स्थित पूर्वाचल विद्युत वितरण निगम दफ्तर में आहुत समीक्षा बैठक में उक्त धनराशि अवमुक्त करने की घोषणा की। पूर्वाचल निगम के सभी 60 वितरण खंडों में 1-1 लाख रुपए के हिसाब से धनराशि खर्च होगी। समीक्षा बैठक में एमडी का जोर मुख्य रूप से ओटीएस पर ही रहा।

कहा, गांव-गांव, मोहल्ले-मोहल्ले तक योजना का विधवित प्रचार-प्रसार हो। इसमें किसी प्रकार की कोताही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने मुख्य अभियंता एवं अधीक्षण अभियंताओं की जिम्मेदारी तय करते हुए कहा कि वे नियमित रूप से योजना में हो रहे पंजीकरण व समस्याओं के समाधान की समीक्षा करें। प्रचार-प्रसार पर हुए खर्च का समुचित परिणाम मिले-इसे सुनशि्चित करने की जिम्मेदारी अधीक्षण अभियंताओं की होगी। एमडी ने कहा कि ओटीएस योजना से लगभग 4000 करोड़ रुपए मिलने की संभावना है। बकायेदारों के संबंध में उन्होंने कहा कि गांवों की अपेक्षा शहरी क्षेत्र में बकायेदारों की संख्या अधिक है।

बैठक में एआरपीडीआरपी के तहत विद्युत प्रणाली सुधार कार्यक्रमों की भी समीक्षाा की गई। असंतोष जाहिर करते हुए एमडी ने कहा कि अब तक 52 प्रतिशत ही काम हो पाए हैं। यह स्थिति ठीक नहीं है। मार्च-14 तक हर हाल में अवशेष कार्य पूरे हो जाने चाहिए। एमडी ने क्षतिग्रस्त ट्रांसफार्मरों की 72 घंटे के दौरान मरम्मत, गांवों को 12 घंटे बिजली आपूर्ति की भी समीक्षा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओटीएस के प्रचार प्रसार पर खर्च होंगे 60 लाख