DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अजय कटारा के कत्ल की साजिश का पर्दाफाश

नीतीश कटारा हत्याकांड में मुख्य गवाह रहे अजय कटारा की हत्या की साजिश का शनिवार को पर्दाफाश हुआ। अजय की सुरक्षा में तैनात एक सिपाही भी साजिश में शामिल है। सिपाही ने सुरक्षा में लगे तीन अन्य सिपाहियों को पैसों का लालच दिया। घटना का खुलासा होते ही आरोपी सिपाही फरार हो गया है।

अजय कटारा की सुरक्षा में लगे तीन सिपाहियों ने ही इसकी लिखित शिकायत एसएसपी से की है। एसएसपी को दिए गए एक पत्र के माध्यम में यूपी पुलिस के कांस्टेबल हारुन अली, विवेक पाल सिंह और रवि कुमार ने शिकायत की है कि उनके साथी कांस्टेबल कृष्ण सिंह यादव ने उन्हें 50-50 लाख रुपये का लालच देकर पूर्व सांसद डीपी यादव के इशारे पर अजय कटारा की हत्या कराने की बात कही।

तीनों सुरक्षाकर्मियों ने इस बाबत एसएसपी को शपथ पत्र भी दिए हैं। सिपाहियों की शिकायत के बाद एसपी देहात जगदीश शर्मा ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। गौरतलब है कि नीतीश कटारा की फरवरी 2002 में हत्या कर दी गई थी, जिसमें डीपी यादव का पुत्र विकास और चचेरा भाई विशाल यादव उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अजय कटारा के कत्ल की साजिश का पर्दाफाश