DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमौसी नरसंहार पीड़ितों को सरकार नहीं दिला सकी न्याय: मोदी

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार खगडिम्या के अमौसी नरसंहार के पीड़ितों को न्याय दिलाने में विफल रही। सभी आरोपित हाईकोर्ट से बरी हो गए। इसके पहले भी सरकार की लापरवाही और उदासीनता के कारण कई मामलों में पीड़ितों को न्याय नहीं मिल पाया। इससे गरीबों में सरकार के प्रति अवशि्वास बढ़ा है। इस मामले में पुलिसिया कार्रवाई और जांच भी सवालों के घेरे में है।

यदि सभी आरोपित निदरेष थे तो दोषी कौन है? पुलिस असली हत्यारों तक क्यों नहीं पहुंच पाई? हत्यारों के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य क्यों नहीं जुटाए गए? सरकार इन सारे सवालों के घेरे में है। इस मामले में जिला अदालत से 10 लोगों को फांसी और चार को उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। मगर पटना हाईकोर्ट ने इन सभी को बरी कर दिया। इससे स्पष्ट है कि पुलिस ने या तो इस मामले में निदरेषों को फंसाया और गिरफ्तार किया, ताकि तत्काल लोगों के गुस्सा को शांत किया जा सके या जांच के दौरान आरोपितों के खिलाफ पर्याप्त सबूत इकट्ठा नहीं किये, जिससे ऊपरी अदालत में सजा बरकरार नहीं रह सकी।

नरसंहार के अन्य मामलों की तरह इसमें भी सरकार की निष्क्रियता सामने आई है। सरकार को विचार करना चाहिए कि उससे कहां चूक हो रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमौसी नरसंहार पीड़ितों को सरकार नहीं दिला सकी न्याय: मोदी